X

नीतीश के सुशासन पर फ‍िर बड़ा सवाल: र‍िमांड होम में नशाखोरी, मर्डर, बाल कैदी ने क‍िए दो कत्‍ल

पूर्ण‍ि‍या के बाल सुधार गृह (र‍िमांड होम) में हुए दो कत्ल।

ब‍िहार के मुजफ्फरपुर में बच्‍च‍ियों से बलात्‍कार की खबरों के बाद अब पूर्ण‍िया में हुई एक घटना से नीतीश के सुशासन के दावों पर सवाल खड़ा हुआ है। पूर्ण‍ि‍या के बाल सुधार गृह (र‍िमांड होम) में दो-दो कत्‍ल हो गए हैं। दोनों कत्‍ल एक बाल कैदी ने क‍िया है। बताया जाता है क‍ि नशा करते पकड़े जाने पर हुई सख्‍ती के ख‍िलाफ बाल कैदी ने प‍िस्‍तौल लोकर हाउस फादर और एक साथी कैदी को मार डाला। र‍िमांड होम में नशे का सामान और प‍िस्‍‍‍‍‍‍तौल कहां से पहुंचा, इसका जवाब प्रशासन नहीं दे पा रहा है।

घटना बुधवार शाम की है। बताया जा रहा है कि मर्डर करने वाले बाल कैदी का संबंध जदयू के एक नेता से है। अपुष्‍ट सूत्र बताते हैं क‍ि उसकी उम्र असल में ज्‍यादा है, कड़ी सजा से बचने के ल‍िए कागजों पर कम उम्र ल‍िखवाया गया है। गोलीबारी के बीच पांच बाल कैदी फरार भी हो गए। इनमें से तीन हत्या के प्रयास का आरोपी है, जबक‍ि दो आर्म्स एक्ट के तहत कार्रवाई का सामना कर रहे हैं। बताया जाता है क‍ि भागने वालों में वह केदी भी है, ज‍िसने कत्‍ल क‍िए। मारा गया कैदी पोक्‍सो एक्‍ट के तहत बंद था।

बताते हैं क‍ि हाउस फादर विजेंद्र कुमार ने इन कैद‍ियों को कफ सीरप (कोरेक्‍स) पीकर नशा करते देखा था। इस पर उन्‍होंने सख्‍ती की थी। इसके बाद पांच बाल कैदी अचानक कमरे से न‍िकले। इनमें से एक के हाथ में प‍िस्‍तौल थी। उसने पहले व‍िजेंद्र के गले में गोली मारी और बाद में एक बाल कैदी के भी सिर में गोली मार कर उसकी भी हत्‍या कर दी। फ‍िर गोली चलाते हुए पांचों भाग गए। घटना में दो कैदी घायल भी हुए हैं। कहा जा रहा है क‍ि ज‍िस कैदी की हत्‍या हुई, उस पर मुखब‍िरी का शक था। मंगलवार रात उसे पीटा भी गया था।