ताज़ा खबर
 

गुजरात: 61% मुस्लिमों वाली इस सीट पर बीजेपी का कब्जा, अजान को ‘आशीर्वाद’ मानते हैं पार्टी प्रत्याशी

बीजेपी ने खाडिया निर्वाचन क्षेत्र के वर्तमान विधायक भूषण भट्ट को एक बार फिर विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार के तौर पर खड़ा किया है।
Author November 21, 2017 08:17 am
गुजरात के खाडिया निर्वाचन क्षेत्र में रविवार को हुई सद्भावना मीटिंग (एक्सप्रेस फोटो)

तन्वीर सिद्दीकी

गुजरात में बीजेपी नेता और पूर्व मंत्री गिरीश परमार ने रविवार को ‘अस्सलामुअलैकुम’ बोलकर पार्टी की सद्भावना मीटिंग में आए सभी मुसलमानों का स्वागत किया। इस मीटिंग का आयोजन मुस्लिम बहूल निर्वाचन क्षेत्र खाडिया-जमालपुर के बेहरामपुरा इलाके में किया गया था। उन्होंने कहा, ‘खाडिया-जमालपुर इलाके से प्रत्याशी खड़ा करने के बारे में सोचना भी बीजेपी के लिए संभव नहीं था (यहां 61 फीसदी वोटर्स मुस्लिम हैं), लेकिन अब चीजें बदल गई हैं।’ बीजेपी ने खाडिया निर्वाचन क्षेत्र के वर्तमान विधायक भूषण भट्ट को एक बार फिर विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार के तौर पर खड़ा किया है। सद्भावना मीटिंग में जब लोगों को संबोधन देने के लिए भूषण खड़े हुए तब अजान की आवाज उन्हें सुनाई पड़ी, जिसके बाद वे अजान होते तक शांत खड़े रहे। बाद में अपने भाषण की शुरुआत में ही उन्होंने कहा कि अजान की आवाज उनके लिए आशीर्वाद की तरह है। उन्होंने अपने संबोधन में सभी मुस्लिमों को अपना परिवार बताया।

भट्ट ने कहा, ‘आप लोग मेरा परिवार हो, मेरे वोटर्स नहीं। अगर पिछले पांच सालों में मैंने किसी भी तरह से आपको दुख पहुंचाया है तो आप मेरे खिलाफ अपना गुस्सा जाहिर कर सकते हैं, लेकिन वोट देते वक्त बीजेपी के ऊपर गुस्सा मत निकालिएगा।’ उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा, ‘जमालपुर कांग्रेस के लिए प्रतिष्ठा का मामला है। कांग्रेस 181 सीटों के बदले में भी जमालपुर में हार बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए कांग्रेस यहां लोगों को लुभाने के लिए इकट्ठा होगी। मैं ये नहीं कह रहा हूं कि आप लोग मुझे ही वोट दें, मैं बस इतना कहना चाहता हूं कि आप वोट देने से पहले बीजेपी के विकास का एजेंडा और कांग्रेस के डिवाइड एंड रूल एजेंडा की आपस में तुलना जरूर कीजिएगा, उसके बाद ही कोई फैसला लीजिएगा। पिछले 60 सालों तक कांग्रेस ने आपको केवल भूख, डर और बेरोजगारी दी थी, लेकिन जब से बीजेपी सत्ता में आई आपको सुरक्षा दी गई और रोजगार भी मिला।’

भट्ट ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के मंदिर जाने पर निशाना साधते हुए कहा, ‘मेरे भाई राहुल ने मंदिरों में जाना शुरू कर दिया है। उन्हें जाने दीजिए, वह जगन्नाथ मंदिर भी जरूर आएंगे और सोचेंगे कि ऐसा करने से उन्हें वोट मिलेंगे। वो भजिया भी खाते हैं, लेकिन वो केवल एक भजिया खाते हैं और 500 तस्वीरें खिंचवाते हैं। हमारे पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह केवल भजिया खाने के लिए कई बार मानक चौक आ चुके हैं।’ आपको बता दें कि खाडिया में पहले कांग्रेस का बोलबाला रहता था, लेकिन 2012 के विधानसभा चुनाव में यहां बीजेपी ने आश्चर्यजनक तरीके से जीत हासिल करते हुए कांग्रेस को जोरदार झटका दिया था। 2012 में भट्ट ने खाडिया में कांग्रेस प्रत्याशी समीरखन वाजिरखान सिपाई को करीब 6 हजार वोटों से हराया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.