ताज़ा खबर
 

नोटबंदी: भारत बंद का असर केरल में, एलडीएफ की हड़ताल से सड़कों पर वीरानी

Bharat Bandh Keara: दूर-दराज के क्षेत्र से यहां के रिजनल कैंसर सेंटर आने वाले मरीजों और रेलवे यात्रियों को लाने-ले जाने के लिए पुलिस वाहनों का इस्तेमाल किया जा रहा है।

Author तिरुवनंतपुरम | November 28, 2016 1:16 PM
नोटंबदी के खिलाफ कोझीकोड में विरोध प्रदर्शन करते कांग्रेस कार्यकर्ता। (पीटीआई फोटो/21 नवंबर, 2016)

नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी पार्टियों के राष्ट्रव्यापी बंद और इसके कारण राज्य में सहकारी क्षेत्र के समक्ष आ रही समस्यों को लेकर केरल में माकपा के नेतृत्व वाली एलडीएफ सरकार ने 12 घंटे के बंद का आह्वान किया है। यह बंद सोमवार (28 नवंबर) सुबह शुरू हुया। सुबह छह बजे शुरू हुए बंद के शुरुआती घंटे में कुछ स्थानों पर ऑटोरिक्शा चलती नजर आयी जिसके कारण लोगों को कुछ राहत मिली। दूर-दराज के क्षेत्र से यहां के रिजनल कैंसर सेंटर आने वाले मरीजों और रेलवे यात्रियों को लाने-ले जाने के लिए पुलिस वाहनों का इस्तेमाल किया जा रहा है।

अधिकांश स्थानों पर केरल राज्य सड़क परिवहन निगम (केएसआरटीएस) और निजी बसें सड़कों से दूर रहीं। ट्रेन से कोट्टायम आने वाले सबीरामाला के कुछ तीर्थयात्रियों ने शिकायत की कि बसों के नहीं चलने के कारण उन्हें अयप्पा मंदिर से जाने में परेशानी का सामना करना पड़ा। आंध्र प्रदेश के एक व्यक्ति ने बताया, ‘हमें कई घंटा इंतजार करना पड़ा। हालांकि कुछ निजी टैक्सी मिल रही थी लेकिन अधिक किराया मांगने के कारण यह हमारे वश में नहीं था।’ पर्यटन क्षेत्र और सबीरामाला पर्यटकों के वाहनों को बंद से छूट प्रदान की गयी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App