ताज़ा खबर
 

Bharat Bandh: हिंसक प्रदर्शन और कर्फ्यू के बीच खत्‍म हुआ भारत बंद, बिहार में चलीं गोलियां, एमपी, यूपी और राजस्‍थान में इंटरनेट रहा बंद

Bharat Band, Bharat Bandh 2018 Today 10 April 2018: दो अप्रैल को अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति (एससी/एसटी) के भारत बंद के दौरान हुए संघर्ष के विरोध में सोशल मीडिया पर विभिन्न आरक्षण विरोधी संगठनों ने 10 अप्रैल को भारत बंद का ऐलान किया था।

कथित भारत बंद के दौरान सड़कों पर उतरे प्रदर्शनकारी। (एएनआई फोटो)

Bharat Bandh 2018 Today 10 April 2018: दलित समुदाय के बाद मंगलवार (10 अप्रैल) को सवर्णों ने भारत बंद का आह्वान किया था। इससे मुख्‍य तौर पर बिहार, उत्‍तर प्रदेश, मध्‍य प्रदेश, राजस्‍थान और पंजाब प्रभावित हुआ। बंद का सबसे व्‍यापक असर बिहार में देखने को मिला। 127 लोगों को हिरासत में लिया गया। राज्‍य के 12‍ जिलो में इसका सबसे ज्‍यादा असर देख गया। हिंसक प्रदर्शनकारियों ने इन जिलों में तोड़फोड़ और आगजनी की। कुछ इलाकों में फायरिंग भी की गई। पुलिस को कई जगहों पर प्रदर्शनकारियों को काबू करने के लिए आंसू गैस के गोले दागने पड़े। आरा में प्रदर्शनकारियों ने फायरिंग भी की। इसके अलावा हाईवे को अवरुद्ध कर दिया गया और कई इलाकों में रेल परिचालन भी ठप कर दी गई। बेगूसराय में प्रदर्शनकारियों ने उग्र प्रदर्शन किया। मध्‍य प्रदेश के कई इलाकों में भी बंद का असर दिखा। दलित समुदाय के हिंसक प्रदर्शन से सीख लेते हुए मध्‍य प्रदेश प्रशासन ने भिण्‍ड और मुरैना में ए‍हतियात के तौर पर दिन भर के लिए कर्फ्यू लगा दिया था। इसके अलावा राजधानी भोपाल, ग्‍वालियर, सागर समेत कई अन्‍य शहरों में धारा 144 लगा दी गई थी। भिण्‍ड, मुरैना और ग्‍वालियर में इंटरनेट सेवा भी रोक दी गई थी। इसके बावजूद राज्‍य के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि भारत बंद का राज्‍य में कोई असर नहीं है। उत्‍तर प्रदेश में बंद का कोई खास असर नहीं दिखा। भारत बंद को देखते हुए सुरक्षा व्‍यवस्‍था सख्‍त कर दी गई थी। हालांकि, सहारनपुर में स्थिति को नियंत्रित करने के लिए इंटरनेट सेवा रोकनी पड़ी। पंजाब के कई इलाकों में बंद का असर दिखा। फिरोजपुर में कथित तौर पर दलित दुकानदारों के दुकानों को जबरन बंद कराने के कारण दो गुटों में टकराव हो गया। इस घटना में तीन लोग घायल हो गए, जबकि चार बाइकों को भी नुकसान पहुंचा। इसके अलावा होशियारपुर, फगवाड़ा, संगरूर और भठिंडा में भी बंद का असर दिखा। वहीं, राजस्‍थान के कई शहरों में इंटरनेट सेवा रोकनी पड़ी और धारा 144 लागू करनी पड़ी। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) एनआरके. रेड्डी ने बताया कि राजधानी जयपुर, हिंडौन, करौली, गंगापुर, बाड़मेर, सिवाना और जैतारण में अतिरिक्‍त सतर्कता बरती गई। जयपुर और जालौर में इंटरनेट सेवाएं बंद रहीं। इसके अलावा जयपुर, कोटपूतली, सांभर, झालावाड़ समेत अन्‍य स्‍थानों पर बाजार बंद रहे। इससे पहले गृह मंत्रालय ने भारत बंद को देखते हुए सभी राज्‍यों और केंद्र प्रशासित क्षेत्रों के लिए एडवायजरी जारी कर सुरक्षा को लेकर विशेष हिदायत दी थी। साथ ही हालात को नियंत्रण में रखने के लिए सीआरपीएफ की कुल 30 कंपनियों को भी लगाया गया था।

Bharat Bandh हाईलाइट्स: 

– चंबल के आईजीपी संतोष सिंह ने कहा है कि भिंड और मुरैना में कर्फ्यू मंगलवार शाम तक लगा रहेगा। वहीं चंबल और ग्वालियर के अधिकर हिस्से में हिंसा को देखते हुए कामकाज बंद कर दिया है।

– मध्य प्रदेश में सुरक्षा के कड़े इंतजाम। सुरक्षा अधिकारियों ने कहा बंद सोशल मीडिया के जरिए बुलाया गया है। इसलिए अभी तक किसी भी संगठन ने इसकी जिम्मेदारी नहीं ली है। वहीं मध्य प्रदेश के गृह मंत्री ने कहा है कि राज्य सरकार हालातों पर बारीकी से नजरें बनाए हुए है।

– प्रदर्शनकारियों ने लुधियाना में दुकानों को जबरन बंद कराने का प्रयास किया।

– उत्‍तर प्रदेश में सभी कार्यालयों के साथ सरकारी और निजी स्‍कूल आम दिनों की तरह खुले रहे।

– कथित तौर पर बुलाए गए भारत बंद का असर बिहार में सबसे अधिक। प्रशासन ने स्थिति को काबू में करने के लिए गया में प्रदर्शनकारियों पर लाठी चार्ज किया। मुजफ्फरपुर में पेट्रोल पंप पर तोड़फोड़।

– आरक्षण विरोधी बंद के चलते राजस्थान के झालावाड़ में मार्केट बंद। प्रदर्शनकारियों ने बाइक पर निकाली रैली।

– आरा में आरक्षण विरोधी प्रदर्शन के चलते दो संगठनों में मुठभेड़। गोलीबारी भी की गई।

– बिहार के आरा में प्रदर्शनकारियों के हमले में 6 पुलिसकर्मी घायल। आरा में धारा-144 लागू। एक साथ पांच लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी। यहां प्रदर्शनकारी चला रहे गोलियां, पत्थरों से भी किया जा रहे हमले।

– हिंसा की आशंका को देखते हुए मेरठ में दुकानें बंद। सुरक्षाकर्मी चप्पे-चप्पे पर तैनात। मथुरा में भी दुकानें बंद हैं। लोगों के एक जगह एकट्ठा होनी की मनाही।

– ग्वालियर में स्थिति तनावपूर्ण। प्रशासन ने लगाई धारा- 144। प्रदेश में सुरक्षा में पुख्ता इंतजाम। आला स्तर के अधिकारी सड़कों पर। पेट्रोल पंप बंद कराए गए।

– उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद और इलाहबाद में धारा -144 लागू। राजस्थान कई हिस्सों में भी धारा- 144 लागू। राज्य के अधिकतर स्कूलों को भी बंद रखने के आदेश।

– आरा, बेगुसराय, पटना में प्रदर्शन आगजनी। आरा में फायरिंग। सड़कों पर गोलियां चला रहे प्रदर्शनकारी। मध्य प्रदेश के भिंड में अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात। इंटरनेट सेवा बंद।

– बिहार के कई जिलों में आरक्षण विरोधी जोरदार प्रदर्शन। प्रदर्शनकारी लगा रहे हैं आरक्षण हटाओ, देश बचाओ के नारे। कैमूर एनएच-219 पर भयंकर जाम लगा।

– जाति के आधार पर नौकरियों और शिक्षा में आरक्षण के विरोध में बिहार के आरा में विरोध-प्रदर्शन। हजारों प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन रोकी।

– जाति आधारित आरक्षण के विरोध में बुलाए कथित भारत बंद के चलते में मध्य प्रदेश के भिंड और मुरैना में कर्फ्यू लगाया गया।

– रिपोर्ट के मुताबिक इस बंद के समर्थन में राज्यस्थान का एक छोटा संगठन सर्व समाज सामने आया है। संगठन ने बंद के समर्थन में एक नोटिस भी जारी किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App