ताज़ा खबर
 

भागलपुर पुलिस ने तस्करी कर अगरतला से बिहार लाया जा रहा 809 KG गांजा किया बरामद

यह घटना इस बात का सबूत है कि बिहार में नशाबंदी के बाद शराब, गांजा, भांग जैसी नशीली चीजों का व्यापार तस्करी के जरिए बदस्तूर जारी है।

इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

भागलपुर पुलिस ने रविवार रात को त्रिपुरा के अगरतला से बिहार के फतुहा जा रही एक ट्रक को जब्त कर 809 किलोग्राम गांजा बरामद किया है। इस सिलसिले में ट्रक के ड्राइवर और कंडक्टर को गिरफ्तार कर गहन पूछताछ की जा रही है। एसएसपी मनोज कुमार के मुताबिक, इनके खिलाफ एनडीपीएस कानून के तहत कार्रवाई कर जेल भेजा जा रहा है। इससे इस बात का भी खुलासा होता है कि बिहार में नशाबंदी के बाद शराब, गांजा, भांग जैसी नशीली चीजों का व्यापार तस्करी के जरिए बदस्तूर जारी है। भागलपुर समेत बिहार के दूसरे हिस्से से भी देसी-विदेशी शराब की खेप पकड़े जाने की खबरें रोजाना मिलती रहती हैं।

बता दें कि गांजा तस्करी की इस घटना की सूचना अगरतला से एसटीएफ ने आर्थिक अपराध इकाई पटना को दी। इसके बाद भागलपुर एसएसपी को यह सूचना दी गई। एसएसपी ने बताया कि ट्रक नंबर डब्लू बी 15 ए 8596 को को पकड़ने के लिए पुलिस थानों को अलर्ट किया गया। रात 10 बजे झारखंड के गोड्डा की ओर से आ रही ट्रक को जीरो माइल एनएच 80 पर रोककर तलाशी ली गई। तलाशी में ड्राइवर के केबिन के पीछे बने एक दूसरे केबिन में कागज में लपेटे गई और पीले रंग की टेप लगी 73 पॉकेट गांजा बरामद किया गया। इसकी कीमत लाखों रुपए आंकी जा रही है।

एसएसपी ने बताया कि इस सिलसिले में छपरा दरियाह गांव के बाशिंदें ट्रक ड्राइवर धर्मेंद्र साव और मुंगेर महेशपुर गांव के रहने वाले कंडक्टर प्रवीण यादव को गिरफ्तार किया गया है। इन्होंने पूछताछ में कबूला कि वे ट्रक मालिक सुनील यादव के कहने पर अगरतला से गांजा लेकर बिहार के फतुहा के जेठली गांव के रामप्रवेश राय उर्फ मामा को डिलवरी करने जा रहे थे। ट्रक मालिक हुगली के शाहगंज का बाशिंदा बताया गया है। एसएसपी के मुताबिक, इन गांजा तस्करों का किससे-किससे लिंक है, इसका खुलासा पूछताछ के बाद किया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App