ताज़ा खबर
 

बेंगलुरु के ज्वैलर का दावा- मैंने अफसरों को दी 400 करोड़ की रिश्वत, कांग्रेस नेता का भी नाम लिया

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रोशन बेग कुछ समय पहले पार्टी के कई नेताओं की सार्वजनिक आलोचना करके चर्चा में आए थे। उन्होंने कहा कि वह इस फर्म का हिस्सा नहीं हैं। ऐसे में वह कानूनी कार्रवाई करेंगे।

Author बेंगलुरु | June 12, 2019 5:50 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

बेंगलुरु में एक शख्स का ऑडियो क्लिप वायरल हो रहा है, जिसमें खुदकुशी करने की धमकी दी गई है। इससे काफी इंवेस्टर्स तनाव में हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस ऑडियो में आवाज मंसूर खान नाम के एक शख्स की है, जो शहर सबसे बड़ी फर्मों में से एक आईएमए ज्वैल्स के मालिक हैं। जानकारी के मुताबिक, इस फर्म में हजारों लोगों ने इंवेस्ट कर रखा है। यह ऑडियो क्लिप बेंगलुरु में काफी तेजी से वायरल हो रही है। इसमें बोलने वाला शख्स खुलेआम कह रहा है कि उसने अफसरों को करीब 400 करोड़ रुपए रिश्वत में दिए हैं। साथ ही, उसने इस मामले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रोशन बेग का नाम भी लिया है।

रोशन बेग कुछ समय पहले पार्टी के कई नेताओं की सार्वजनिक आलोचना करके चर्चा में आए थे। उन्होंने कहा कि वह इस फर्म का हिस्सा नहीं हैं। ऐसे में वह कानूनी कार्रवाई करेंगे। अब काफी लोगों ने दावा किया है कि उन्हें अच्छे रिटर्न का झांसा देकर इंवेस्ट कराया गया था। इस फर्म ने उनके साथ धोखाधड़ी की है। ऐसे में काफी लोग बुधवार सुबह शिवाजी नगर स्थित आईएमए ज्वैल्स के शोरूम के बाहर एकजुट हो गए। इनमें से काफी लोगों का कहना था कि खुदकुशी की धमकी फर्जी है। मंसूर खान भागने की कोशिश कर रहे हैं। फिलहाल पुलिस ने मंसूर खान के खिलाफ केस दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

National Hindi News, 12 June 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी का कहना है कि यह मामला केंद्रीय जांच समिति के सुपुर्द कर दिया गया है। साथ ही, गृह राज्य मंत्री को भी निर्देश दिए गए हैं। इस मामले को काफी गंभीरता से लिया जा रहा है और दोषी के खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी। इस बीच बीजेपी ने कांग्रेस और एचडी कुमारस्वामी पर निशाना साधा है। उन्होंने एचडी कुमारस्वामी और मंसूर खान की एक तस्वीर ट्वीट की है। इसमें लिखा गया है, ‘‘यह जानकर अच्छा लगा कि आप इस धोखेबाज से काफी पहले से वाकिफ हैं। उसे पकड़ने के लिए आपको मदद करनी चाहिए। आपका काम धोखेबाजों को पकड़ना है, न कि खुद को पीड़ित दिखाना। आप अपनी जिम्मेदारी समझें।’’

मुख्यमंत्री ने बीजेपी के ट्वीट पर पलटवार किया है। उन्होंने लिखा, ‘‘यह देखकर दुख हुआ कि कर्नाटक बीजेपी एक बार फिर गुमराह करने की कोशिश में है और इस मामले को उछालने के लिए पुरानी तस्वीर का इस्तेमाल कर रही है। ट्रोल करना बीजेपी की पुरानी रणनीति है। आईएमए धोखाधड़ी काफी गंभीर मुद्दा है और दोषियों को सजा जरूर दी जाएगी।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X