ताज़ा खबर
 

Assam: जय श्रीराम नहीं बोलने पर अल्पसंख्यक समुदाय के युवकों को जमकर पीटा, जबरन लगवाया पाकिस्तान मुर्दाबाद का नारा

असम के अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों के एक समूह पर हमला किया गया और उनसे ‘जय श्री राम’ और ‘पाकिस्तान मुर्दाबाद’ के नारे लगाने के लिए मजबूर किया गया।

बरपेटा | June 21, 2019 11:42 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस

एक कम चर्चित दक्षिणपंथी संगठन के खिलाफ शिकायतें दर्ज हुई हैं जिसमें आरोप लगाया गया है कि असम के अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्यों के एक समूह पर कथित रूप से हमला किया गया और उन्हें ‘जय श्री राम’ और ‘पाकिस्तान मुर्दाबाद’ के नारे लगाने के लिए मजबूर किया गया। अखिल असम अल्पसंख्यक छात्र संघ और उत्तर-पूर्व अल्पसंख्यक छात्र संघ ने दक्षिणपंथी संगठन और इसके संस्थापक के खिलाफ दो प्राथमिकी दर्ज कराई हैं।

सोशल मीडिया पर वीडियो हुआ वायरलः पुलिस के अनुसार, यह घटना मंगलवार (18 जून) की रात को प्रकाश में आई जब कथित हमले तथा जबरन नारे लगवाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। बताया जा रहा है कि हमलावरों ने खुद ही वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर अपलोड किया था। शिकायतों में कहा गया कि दक्षिणपंथी संगठन के सदस्य होने का दावा करने वाले लोगों के एक समूह ने बारपेटा कस्बे में एक ऑटोरिक्शा रोककर उसमें बैठे युवकों की पिटाई की।

National Hindi News, 21 june 2019 LIVE Updates: दिनभर की खबरें जानने के लिए यहां क्लिक करें

जबरन लगवाए गए नारेः जानकारी के मुताबिक पीड़ितों को गालियां दी गई।  इस मामले में असम के बरपेटा से कांग्रेस विधायक अब्दुल खलीक ने हमले पर रोष जताया और  पुलिस अधीक्षक को घटना में कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। अल्पसंख्यक समुदाय से ताल्लुक रखने वाले पीड़ितों से जबरन ‘जय श्री राम’ ‘भारत माता की जय’ और ‘पाकिस्तान मुर्दाबाद’ के नारे लगवाए गए। हाल ही में  लोगों से जबरन ‘जय श्री राम ’नारे लगवाने की कई घटनाएं सामने आ रही हैं। कुछ समय पहले गुरुग्राम में कुछ लोगों ने एक मुस्लिम युवक को जमकर पीटा और उसे जय श्री राम नारा लगाने पर मजबूर किया। यही नहीं पुणे के एक डॉक्टर को दिल्ली में जबरन जय श्री राम नारे लगाने को लेकर धमकाया गया और नारा लगाने पर मजबूर किया गया।

Next Stories
1 नरेंद्र मोदी को मिली थी जान से मारने की धमकी, एक दिन बाद उसी मंदिर में गए थे PM
2 तमिलनाडु ने केरल सरकार के पानी देने के प्रस्ताव को ठुकराया, कहा- हमें नहीं है मदद की जरुरत
3 Maharashtra: फडणवीस सरकार का ऐलान- राज्य के सभी CBSE और ICSE स्कूलों में मराठी भाषा बनाई जाएगी अनिवार्य
ये पढ़ा क्या?
X