scorecardresearch

सरकारी स्कूल को बना दिया डांस बार, रात भर गाने बजाने के बाद प्रिंसिपल फरार; अधिकारी बोले- ऐसे कार्यक्रम होना गलत

School Turned into Dance Bar: बिहार के वैशाली जिले में विद्या के मंदिर को दूषित करने का मामला सामने आया है। यहां के देसरी के एक सरकारी स्कूल के प्रांगण में बार बालाओं के डांस कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।

School Turn into Dance Bar
वायरल हो रहे वीडियो से निकाले गए स्क्रीन शॉट। Photo Source- Social Media

School Turned into Dance Bar: बिहार के वैशाली जिले में विद्या के मंदिर को दूषित करने का मामला सामने आया है। यहां के देसरी के एक सरकारी स्कूल के प्रांगण में बार बालाओं के डांस कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। स्कूल की बिल्डिंग में रात भर डांस कार्यक्रम चला। दूर दराज के इलाकों से लोग इस कार्यक्रम में शरीक होने के लिए पहुंचे लेकिन अधिकारियों तक इसकी जानकारी नहीं पहुंच पाई। मामले का खुलासा तब हुआ जब इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा।

सोशल प्लेटफॉर्म पर वीडियो के आने के बाद हड़कंप मच गया। वीडियो में स्कूल का नाम बड़े-बड़े अक्षरों में नजर आ रहा है। इतना ही नहीं फूहड़ गानों पर ग्रामीवासी भी बार बालाओं के साथ ठुमके लगाते हुए नजर आ रहे हैं। अधिकारियों का कहना है कि वीडियो वायरल होने के बाद घटना की जानकारी मिली। इसके बाद से प्रधानाचार्य से संपर्क करने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम को स्कूल में कराया जाना गलत है।

उन्होंने कहा कि प्रिंसिपल से सवाल पूछा जाएगा कि आखिर किन परिस्थितियों में देर रात स्कूल को खोला गया और किसी अन्य कार्यक्रम के लिए अनुमति दी गई। वहीं स्कूल के प्रिंसिपल मामले के गर्माने के बाद गायब बताए जा रहे हैं। अधिकारियों ने भी इसकी पुष्टि की है कि उन्होंने बताया कि काफी कोशिशों के बाद भी स्कूल प्रिंसिपल से संपर्क नहीं हो पा रहा है। एक स्थानीय़ मीडिया से बातचीत में प्रिंसिपल ने बयान देते हुए कहा है कि उन्हें इस कार्यक्रम की जानकारी नहीं थी, स्कूल कैंपस का ताला तोड़कर यह कार्यक्रम कराया गया था।

वहीं स्थानीय मीडिया का कहना है कि कार्यक्रम के दौरान स्कूल का ताला टूटा नहीं बल्कि लटका हुआ दिखाई दिया है। कुल मिलाकर यह मामला तूल पकड़ता हुआ दिखाई दे रहा है। फिलहास प्रिंसिपल की तलाश की जा रही है। अधिकारियों का कहना है प्रिंसिपल से जानकारी के बाद दोषितों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

यह पहला मामला नहीं है, वैशाली जिले में पिछले दिनों भी ऐसा ही एक नजारा देखने को मिला था। इसी देसरी थाने के अंतर्गत अप्रैल महीने के दौरान मां के श्राद्ध के कार्यक्रम में बेटों ने बार बालाओं को बुला लिया था। उन दिनों कोरोना की दूसरी लहर खासी प्रभावी थी। सरकार एक तरफ कोरोना नियमों का पालन करने की सलाह दे रही थी वहीं गांव में डांस कार्यक्रम कराया जा रहा था। उस घटना का भी वीडियो वाय़रल होने के बाद खासा बवाल हुआ था।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

X