ताज़ा खबर
 

यूपी: विवाहिता से दुष्‍कर्म के दो दोषियों को 20-20 साल की कैद, जुर्माना भी लगा, नाबालिग बच्ची के साथ भी हुआ रेप

उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के गिरवां थाना क्षेत्र के मसुरी गांव में मंगलवार और बुधवार की मध्यरात्रि को दो शराबी युवकों द्वारा चार वर्ष की एक दलित बच्ची का अपहरण कर उसके साथ कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद से गांव में तनाव की स्थिति पैदा हो गई है।

Author बांदा | July 12, 2018 5:55 PM
तस्वीर का इस्तेमाल प्रस्तुतीकरण के लिए किया गया है। (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के गिरवां थाना क्षेत्र के मसुरी गांव में मंगलवार और बुधवार की मध्यरात्रि को दो शराबी युवकों द्वारा चार वर्ष की एक दलित बच्ची का अपहरण कर उसके साथ कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद से गांव में तनाव की स्थिति पैदा हो गई है। अधिकारियों ने तनाव को देखते हुए गांव में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया है। ग्राम प्रधान राजा सिंह यादव ने गुरुवार को बताया कि “गांव में स्थिति अभी भी संवेदनशील है। ग्रामीणों का आक्रोश अभी शांत नहीं हुआ है। उन्होंने बताया, “आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद भी ग्रामीणों का गुस्सा शांत नहीं हुआ और वह पुलिस की मौजूदगी में आरोपियों के घरों में दो बार आग लगाने की कोशिश कर चुके हैं। पुलिस क्षेत्राधिकारी नरैनी ओमप्रकाश ने बताया, “गांव में तनाव की स्थिति को देखते हुए बुधवार से ही भारी पुलिस बल तैनात है और स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है। मंगलवार और बुधवार की मध्यरात्रि शराब के नशे में गांव के दो युवकों ने घर के बाहर सो रही चार साल की एक दलित बच्ची का अपहरण कर उसके साथ कथित रूप से सामूहिक दुष्कर्म किया था। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर दोनों आरोपियों लल्लू माली (26) और नत्थू शर्मा (30) को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से बेहोश बच्ची को मुक्त करा लिया था। इस समय बच्ची का इलाज कानपुर के हैलेट अस्पताल में चल रहा है और उसकी हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XA1 Dual 32 GB (White)
    ₹ 17895 MRP ₹ 20990 -15%
    ₹1790 Cashback
  • Apple iPhone SE 32 GB Gold
    ₹ 19959 MRP ₹ 26000 -23%
    ₹0 Cashback

वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश के बांदा जिले की अदालत ने एक विवाहित युवती से सामूहिक दुष्कर्म करने का आरोप साबित होने पर दो दोषियों को बुधवार को 20-20 साल की सश्रम कैद और 10-10 हजार रुपये के आर्थिक दंड की सजा सुनाई। अदालती सूत्रों ने गुरुवार को बताया कि 11 मई 2014 को बिंसड़ा थाना क्षेत्र के एक गांव में खेत जा रही एक विवाहित युवती के साथ अतर्रा थाना क्षेत्र के तीन युवकों ने दुष्कर्म किया था।

इस मामले में दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद प्रथम त्वरित न्यायालय (एफटीसी) के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश अनिल कुमार पंचम ने आरोप सिद्ध होने पर बुधवार को विनोद यादव और संजय यादव को 20-20 साल के सश्रम कारावास और दोनों को 10-10 हजार रुपये के अर्थदंड की सजा सुनाई है। एक आरोपी के नाबालिग होने की वजह से सुनवाई के लिए उसकी पत्रावली किशोर न्यायालय हस्तांतरित की गई है। सूत्रों ने बताया कि दोनों दोषी जमानत पर थे, जिन्हें न्यायालय के आदेश पर जेल भेज दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App