ताज़ा खबर
 

मोदी-शाह को राम और लक्ष्मण का अवतार बताने वाले भाजपा विधायक अपनी ही सरकार के खिलाफ देंगे धरना

जिले में माध्यमिक शिक्षकों को पिछले तीन महीने से वेतन नहीं मिला है। विधायक सुरेंद्र सिंह का कहना है कि शिक्षकों को वेतन नहीं मिल रहा है लेकिन जिला विद्यालय के निरीक्षक, लेखाधिकारी और अन्य कर्मचारियों को हर महीने वेतन मिल रहा है।

भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह की फाइल फोटो।

उत्तर प्रदेश के चर्चित उन्नाव गैंगरेप के मामले में अपने बयानों से अपनी ही पार्टी के लिए मुश्किलें खड़ी करने वाले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक सुरेंद्र सिंह ने अब भाजपा के खिलाफ सड़क पर उतरने का ऐलान कर दिया है। बैरिया विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह माध्यमिक शिक्षकों के वेतन भुगतान की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन करेंगे। विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि वो पहले शिक्षक हैं और उसके बाद विधायक। उन्होंने कहा कि मैं शिक्षकों के हित के लिए किसी भी हद तक जा सकता हूं। सुरेंद्र सिंह ने बुधवार को बलिया में जिलाधिकारी कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन करने का ऐलान किया है।

जिले में माध्यमिक शिक्षकों को पिछले तीन महीने से वेतन नहीं मिला है। विधायक सुरेंद्र सिंह का कहना है कि शिक्षकों को वेतन नहीं मिल रहा है लेकिन जिला विद्यालय के निरीक्षक, लेखाधिकारी और अन्य कर्मचारियों को हर महीने वेतन मिल रहा है। इतना ही नहीं विधायक सुरेंद्र सिंह ने जिला विद्यालय निरीक्षक पर भ्रष्टाचार के आरोप भी लगाए हैं। विधायक ने शिक्षकों से इस धरना प्रदर्शन में शामिल होने का आग्रह किया है।

पिछले हफ्ते गुरुवार (10 मई) को भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने अपने ताजा बयान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भगवान राम, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को लक्ष्मण तथा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को हनुमान बता दिया था। उससे पहले सुरेंद्र सिंह ने यह भी कहा था कि अगले साल होने वाला लोकसभा चुनाव धर्मयुद्ध की होगा और इसमें पांडवों तथा कौरवों के बीच लड़ाई होगी। उन्होंने आगे कहा था कि पांडवों के दल में सेनापति और अर्जुन की भूमिका में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी होंगे तो दूसरी ओर कौरवों का दल कांग्रेस के नेतृत्व में होगा।

आपको याद दिला दें कि चर्चित उन्नाव गैंगरेप केस में सुरेंद्र सिंह ने आरोपी भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर का पक्ष लिया था। इस दौरान उन्होंने कई विवादित बयान भी दिया था। उस वक्त उन्होंने मोबाइल के इस्तेमाल को नाबालिगों से रेप के लिए जिम्मेदार ठहरा दिया था। अपने एक और बयान पर विधायक ने कहा था कि कोई तीन बच्चों की मां से दुष्कर्म नहीं कर सकता।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App