scorecardresearch

बाहुबली अतीक अहमद का गुर्गा हमजा अंसारी गिरफ्ताार, पढ़ें उसके अपराधों की पूरी कुंडली

व्यापारी के साथ जेल में मारपीट की घटना को लेकर जो मामला लखनऊ के कृष्णानगर थाने में दर्ज है उसमें अतीक अहमद के बड़े बेटे का नाम भी शामिल है।

बाहुबली अतीक अहमद का गुर्गा हमजा अंसारी गिरफ्ताार, पढ़ें उसके अपराधों की पूरी कुंडली
पूर्व बाहुबली सांसद अतीक अहमदः Phot Credit – Express Archives

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज के बाहुबली नेता अतीक अहमद का गुर्गा हमजा अंसारी गिरफ्तार कर लिया गया है। हमजा को लखनऊ की सीबीआई टीम ने प्रयागराज में गिरफ्तार किया है। पूर्व बाहुबली सांसद के इस गुर्गे पर जिसे हमजा के नाम से जाना जाता है, अपहरण और मार-पीट सहित कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। इसके अलावा हमजा के खिलाफ गैरजमानती वारंट भी जारी हुआ था। हमजा की गिरफ्तारी के बाद अब सीबीआई को अतीक अहमद के बेटे उमर की तलाश है।

सीबीआई ने प्रयागराज में छापेमारी कर पूर्व सांसद के गुर्गे हमजा अंसरी को धर दबोचा। हमजा के खिलाफ एनबीडब्ल्यू जारी हो चुका था। पिछले दिनों देवरिया में एक व्यापारी की जेल में पिटाई का एक मामला सामने आया था। इस मामले में अतीक अहमद का यही गुर्गा मुख्य आरोपी है। ये देवरिया में व्यापारी की पिटाई के मामले में भी वांछित था।

प्रयागराज में सीबीआई के हत्थे चढ़ा हमजा अंसारी
प्रयागराज में लखनऊ की सीबीआई टीम ने खुफिया जानकारी के आधार पर हमजा अंसारी का घेराव किया और एक कब्रिस्तान के पास सीबीआई की टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया। ये कब्रिस्तान प्रयागराज के करेली में गौस नगर इलाके में है। CBI की टीम हमजा को गिरफ्तार करने के बाद करेली थाने में दाखिल किया और उसके बाद हमजा को लेकर सीबीआई की टीम लखनऊ के लिए निकल पड़ी। आपको बता दें कि सीबीआई कोर्ट ने इसके पहले हमजा की गिरफ्तारी को लेकर गैर जमानती वारंट जारी किया था।

जेल में की थी व्यापारी की पिटाई
दरअसल बाहुबली अतीक अहमद ने लखनऊ के एक रियल स्टेट कारोबारी के बिजनेस पार्टनर मोहित जायसवाल का हमजा से अपहरण करवा लिया था। ये मामला 26 दिसंबर 2018 का है। अतीक के गुर्गों ने व्यापारी का लखनऊ से अपहरण किया इसके बाद मोहित जयसवाल को अतीक के गुर्गे देवरिया ले गए। अतीक अहमद पहले से ही देवरिया जेल में बंद था। जेल में ही अतीक ने व्यापारी मोहित की पिटाई भी की थी और इस मारपीट का आरोप अपने गुर्गों पर लगवा दिया था।

लखनऊ के कृष्णा नगर थाने में केस दर्ज
इस घटना के बाद व्यपारी मोहित जयसवाल ने अतीक अहमद और उसके बेटे के खिलाफ अपहरण मारपीट का मुकदमा दर्ज करवा दिया था। ये मामला लखनऊ के कृष्णा नगर थाने में दर्ज था। इस घटना के दो दिन बाद ही अतीक अहमद को देवरिया जेल से बरेली जेल में शिफ्ट कर दिया गया था। इस घटना की फाइल कोर्ट के आदेश पर सीबीआई को स्थानांतरित कर दी गई थी। जब मामला बढ़ने लगा तो अतीक अहमद का बेटा उमर भी फरार हो गया। वहीं उसका गुर्गा हमजा अंसारी भी फरार हो गया था।

एक तांगेवाले का बेटा अतीक अहमद कैसे बना था खौफ का दूसरा नाम ?

केस में अतीक अहमद के बड़े बेटे उमर का नाम भी
व्यापारी के साथ जेल में मारपीट की घटना को लेकर जो मामला लखनऊ के कृष्णानगर थाने में दर्ज है उसमें अतीक अहमद के बड़े बेटे का नाम भी शामिल है। उमर साल 2018 से ही फरार चल रहा है। इस मामले में सीबीआई ने हमज़ा अंसारीको तो गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन अभी भी अतीक अहमद का बड़ा बेटा उमर फरार चल रहा है। सीबीआई ने उमर पर एक लाख रुपये का इनाम भी घोषित किया है। जांच एजेंसी को लंबे समय अतीक के बड़े बेटे उमर की तलाश है।

अतीक के बेटा साल 2018 से फरार
साल 2018 में कारोबारी मोहित जयसवाल को लखनऊ से अगवा कर देवरिया में ले जाकर पिटाई करने के मामले में अतीक अहमद का बेटा उमर और उसका गुर्गा हमजा अंसारी दोनों शामिल थे। अतीक अहमद पहले से ही जेल में था। जेल में पहुंचते ही इन तीनों ने मिलकर कारोबारी की पिटाई की और फिर मोहित किसी तरह से वहां से जान बचाकर बाहर आए और इन तीनों के खिलाफ मामला दर्ज करवा दिया। मामले में एक आरोपी अतीक अहमद पहले से ही बरेली जेल में है। अब उसका गुर्गा हमजा अंसारी भी सीबीआई के हत्थे चढ़ गया है। अब इस मामें सिर्फ एक आरोपी बचा है वो है अतीक का बेटा उमर जिस पर सीबीआई ने एक लाख रुपये का ईनाम भी रखा है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.