ताज़ा खबर
 

यूपी: मंत्री जी के कार्यक्रम के लिए बच्चों को करवाया घंटों इंतजार, भूख से बिलखते दिखे मासूम

उत्तर प्रदेश में बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री अनुपमा जायसवाल एक बार फिर विवादों में घिर गईं। जब बहराइच के गांव में लगी उनकी चौपाल में भीड़ दिखाने के लिए स्कूली बच्चों का सहारा लिया गया।

Author नई दिल्ली | May 6, 2018 14:00 pm
बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री अनुपमा जायसवाल और भूख-प्यास से बिलखता छात्र(फोटो-एएनआई)

उत्तर प्रदेश में बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री अनुपमा जायसवाल एक बार फिर विवादों में घिर गईं। जब बहराइच के गांव में लगी उनकी चौपाल में भीड़ दिखाने के लिए स्कूली बच्चों का सहारा लिया गया। आठ घंटे तक बच्चे मंत्री के इंतजार में भूख-प्यास से बेहाल हुए तो रोने लगे। कार्यक्रम में मंत्री के देरी से पहुंचने पर सवाल खड़े हो गए। बताया जाता है कि गांव में चौपाल का कार्यक्रम दिन में 12 बजे रखा गया था, जबकि मंत्री आठ बजे पहुंचीं।इसके कारण बच्चों को करीब आठ घंटे तक भूखे बैठना पड़ा। जब मंत्री की जानकारी में घटना आई तो उन्होंने शिक्षकों के सिर पर दोष मढ़ दिया।

मंत्री अनुपमा जायसवाल ने कहा- मैं नहीं जानती की बच्चों को आठ घंटे पहले ही क्यों बैठा लिया गया, संबंधित शिक्षक इसके लिए जिम्मेदार हैं।गांव के लोगों के मुताबिक स्कूली बच्चों को मंत्री अनुपमा जायसवाल के स्वागत के लिए बुलाया गया था।दरअसल शुक्रवार की रात बहराइच के गांव इटौंझा के प्राथमिक स्कूल में मंत्री जायसवाल की चौपाल लगनी थी। उन्हें यूं तो दोपहर में पहुंचना था मगर वह काफिले के साथ पहुंची रात में। छात्रों के मुताबिक उनके शिक्षकों ने उन्हें मंत्री अनुपा जायसवाल के दौरे को सफल करने के लिए बुलाया।मंत्री के इंतजार में बच्चे पूरे आठ घंटे तक बैठे रहे। इस दौरान न तो स्कूल के शिक्षकों ने और न ही प्रशासन ने उनके जलपान की व्यवस्था की। इस दौरान कुछ बच्चे रोने लगे। बता दें कि हाल में मंत्री अनुपमा जायसवाल एक विवादित बयान से भी सुर्खियों में रहीं थीं, जिसमें उन्होंने कहा था कि दलितों के घर मच्छर काटते हैं, फिर भी तमाम मंत्री उनके घरों पर आते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App