ताज़ा खबर
 

आजमगढ़: दुकानों को रौंदते हुए घर में जा घुसा तेज रफ्तार ट्रक, नौ महीने की मासूम समेत 5 की मौत; दर्जनों घायल

आजमगढ़ के जहानागंज इलाके में शनिवार की शाम को एक अनियंत्रित ट्रक भीड़ को रौंदते हुए घर में जा घुसा। जिससे 5 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई।

आजमगढ़ में हादसे के बाद लोगों की भीड़ फोटो सोर्स -@WeUttarPradesh

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के जहानगंज क्षेत्र में शनिवार शाम एक बेकाबू ट्रक कई दुकानों को ध्वस्त करते हुए एक मकान से जा टकराया। जिससे इस हादसे में चार लोगों की मौत हो गई जबकि करीब 25 लोग घायल हो गए। बताया जा रहा है कि इस हादसे में नौ माह की मासूम की भी मौत हुई है। घायलों को नजदीकी अस्पताल में अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां कई लोगों की हालत नाजुक है। लिहाजा मृतकों की संख्या बढ़ सकती है।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि जहानागंज थाना क्षेत्र के इटौरा-चक्रपानपुर मार्ग पर स्थित टिल्लूगंज बाजार में एक अनियंत्रित ट्रक कई दुकानों को ध्वस्त करता हुआ मकान से जा टकराया।  उन्होंने बताया कि इस हादसे में रीना, सोहनी, सुराती चौहार और बुलबुल की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं करीब 25 लोग दुर्घटना में घायल हुए हैं जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है और उनमें से कई की हालत नाजुक है, लिहाजा मरने वालों की संख्या बढ़ भी सकती है।

स्थानीय लोगों का आरोप है कि चालक नशे में धुत होकर ट्रक चला रहा था जिससे यह भीषण दुघर्टना हुई। इस घटना के विरोध में ग्रामीणों ने मार्ग जाम कर प्रदर्शन किया। वरिष्ठ अधिकारी मौके पर मौजूद हैं। इस घटना के विरोध में ग्रामीणों ने मार्ग जाम कर प्रदर्शन किया। वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचकर लोगों को शांत कराया। आजमगढ़ एसपी त्रिवेणी सिंह ने बताया कि घायलों को अस्पताल में भर्ती कराने के साथ अग्रिम कार्यवाही की जा रही है। फिलहाल शवों का सुबह पोस्टमॉर्टम कराया जाएगा, जिसके बाद उन्हें परिवार को सौंप दिया जायेगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 …तो ज्योतिषियों की सलाह पर टाला जा रहा कर्नाटक में फ्लोर टेस्ट, जानें- एस्ट्रोलॉजर की सलाह और क्या कह रहे नेता
2 राहुल गांधीः चुनार गेस्ट हाऊस में प्रियंका को कैद करना लोकतंत्र कुचलने की कोशिश, दलितों और आदिवासियों के लिए जारी रहेगी लड़ाई
3 Sheila Dikshit Demise: 35 सालों में शीला ने छू लीं सियासत की बुलंदियां, पढ़ें Delhi Metro से कॉमनवेल्थ गेम्स तक उनकी बड़ी उपलब्धियां