ताज़ा खबर
 

अमर सिंह का दावा- मुझे पिटवाना और मेरी बेटियों पर तेजाब से हमला करवाना चाहते हैं आजम खान

अमर सिंह ने समाजवादी पार्टी पर बात करते हुए कहा, 'समाजवादी पार्टी का नाम नमाजवादी पार्टी रहेगा, जब तक वहां आजम खान जैसे लोग रहेंगे। कल ही उन्होंने एक साक्षात्कार में कहा है कि अमर सिंह के बच्चे जवान हो रहे हैं, हमारी बेटियों के लिए ऐसा कहा है।'

आजम खान और अमर सिंह (फोटो सोर्स- एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान और पार्टी के पूर्व नेता अमर सिंह के बीच तनातनी की खबरें पिछले कई महीनों से लगातार सामने आ रही हैं। एक बार फिर अमर सिंह और आजम खान के बीच टेंशन बढ़ाने वाली खबर सामने आई है। सीएनएन न्यूज़ 18 में अमर सिंह ने आजम खान को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने दावा किया है कि आजम खान उनको निर्वस्त्र करके उनकी पिटाई करवाना चाहते हैं और उनकी बेटियों के ऊपर तेजाब से हमला करवाना चाहते हैं।

अमर सिंह ने समाजवादी पार्टी पर बात करते हुए कहा, ‘समाजवादी पार्टी का नाम नमाजवादी पार्टी रहेगा, जब तक वहां आजम खान जैसे लोग रहेंगे। कल ही उन्होंने एक साक्षात्कार में कहा है कि अमर सिंह के बच्चे जवान हो रहे हैं, हमारी बेटियों के लिए ऐसा कहा है और इन जैसे लोगों को नंगा करके रास्ते पर मारना चाहिए और इनकी बेटियों पर तेजाब फेंकना चाहिए। आजम खान का ये बयान मैं यूट्यूब में और अपने फेसबुक पर लगाकर ये कहूंगा कि आजम खान की सांसद पत्नी और विधायक बेटा फले-फूले और सुरक्षित रहे। मैं इस तरह की बातें नहीं करता।’

अमर सिंह ने आगे कहा, ‘आजम खान भारत माता को डायन कहेंगे। मुलायम सिंह का जन्मदिन मनाकर कहेंगे कि हमें दाउद और अबू सलेम ने पैसा दिया है। वो मुसलमानों को भी नहीं छोड़ेंगे।’ अखिलेश यादव द्वारा इटावा में विष्णु मंदिर बनाने के ऐलान पर अमर सिंह ने कहा, ‘…विष्णु मंदिर बना लें, लेकिन राम मंदिर वो कहां से बनाएंगे, उसका समर्थन कहां से करेंगे, क्योंकि मर्यादापुरुषोत्तम राम ने अपने पिता के कहने पर 14 बरस का वनवास झेला था, तो इन्होंने तो अपने पिता का वनवास करवाया है, तो ये राम को तो मान ही नहीं सकते।’ बता दें कि अखिलेश यादव ने यह ऐलान किया था कि अघर उनकी सरकार बनती है तो इटावा में भगवान विष्णु का मंदिर बनाया जाएगा। उनके इस ऐलान पर बीजेपी ने सवालिया निशान लगाते हुए कहा कि ये सब एक नौटंकी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App