ताज़ा खबर
 

अयोध्या विवाद पर शिवसेना का बड़ा बयानः मध्यस्थता नहीं अध्यादेश चाहिए, मोदी सरकार शुरू करे मंदिर निर्माण

महाराष्ट्र में बीजेपी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ने जा रही शिवसेना ने बड़ा बयान दिया है। शिवसेना ने कहा कि राम जन्मभूमि एक भावनात्मक मुद्दा है और इसे मध्यस्थता के जरिए हल नहीं किया जा सकता।

uddhav thakreyशिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे फोटो सोर्सः इंडियन एक्सप्रेस

अयोध्या में राम मंदिर को लेकर सुप्रीम कोर्ट की तरफ से मध्यस्थता के लिए नियुक्त पैनल का सियासी गलियारों में विरोध शुरू हो गया है। महाराष्ट्र में बीजेपी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ने जा रही शिवसेना ने बड़ा बयान दिया है। शिवसेना ने कहा कि राम जन्मभूमि एक भावनात्मक मुद्दा है और इसे मध्यस्थता के जरिए हल नहीं किया जा सकता। इसके साथ ही शिवसेना ने मोदी सरकार से इस मुद्दे पर अध्यादेश लाने और राम मंदिर का निर्माण शुरू करने की भी मांग की है। शिवसेना ने तीखा हमला करते हुए पूछा कि जब राजनेता, शासक और सुप्रीम कोर्ट अब तक इस मुद्दे को हल नहीं कर सके तो फिर ये तीन मध्यस्थ क्या करेंगे?

उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को इस मामले में एक मध्यस्थता पैनल का गठन किया है ताकि बातचीत से इस मुद्दे को सुलझाया जा सके। इस पैनल में सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश जस्टिस फकीर मोहम्मद कलीफुल्ला, श्रीश्री रविशंकर और वरिष्ठ वकील राम पंचू शामिल हैं। शिवसेना ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय ने राम जन्मभूमि विवाद पर फैसला टाल दिया और अब इस मामले पर फैसला लोकसभा चुनाव के बाद ही होगा।

 

शिवसेना के मुखपत्र सामना में सवाल उठाया गया, ‘अगर इस मामले का मध्यस्थता से हल हो सकता तो फिर यह विवाद 25 सालों से क्यों चल रहा होता? सैकड़ों लोगों को क्यों अपनी जान गंवानी पड़ती?’ अगर इतने सालों में इस मुद्दे पर विरोधी पक्ष मध्यस्थता के लिए तैयार नहीं थे तो अब सुप्रीम कोर्ट ऐसा क्यों कर रहा है? अयोध्या सिर्फ जमीन विवाद का मुद्दा नहीं है बल्कि यह भावनात्मक मुद्दा है। ऐसा अनुभव किया जा चुका है कि मध्यस्थता ऐसे संवेदनशील मामलों में कारगर नहीं होती। जिस तरह कश्मीर राष्ट्रीय पहचान और गर्व का मुद्दा है, राम मंदिर भी हिंदू गर्व का मुद्दा है। लेकिन राम हिंदुस्तान में निर्वासन में हैं।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Howrah: पिता ने कर्ज लेकर पढ़ाया था, पसंद की जॉब न मिलने से परेशान होटल रिसेप्शनिस्ट ने किया सुसाइड
2 बीजेपी नेता तजिंदर पाल बग्गा के निशाने पर सोनिया, राहुल और वाड्रा, कहा- ‘कांग्रेस एक बेल कथा’
3 मौलाना सलमान नदवी ने राम को बताया पैगंबर, कहा- इस्लामी शरीयत के हिसाब से शिफ्ट कर सकते हैं मस्जिद
ये पढ़ा क्या?
X