अयोध्या में बना वर्ल्ड रिकॉर्ड, 12 लाख दीयों की रोशनी से जगमगाई राम की नगरी; शानदार आतिशबाजी से गुलजार हुआ आसमान

अयोध्या में बुधवार को दीपोत्सव कार्यक्रम मनाया गया। इस समारोह में शामिल होने के लिए सीएम योगी और केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी अयोध्या पहुंचे।

Ayodhya Deeputsav, diwali, ram mandir, cm yogi
अयोध्या में भव्य दीपोत्सव कार्यक्रम (फोटो @cmbjpup)

अयोध्या में इस बार भी दिवाली भव्य तरीके से मनाई जा रही है। योगी सरकार का दीपोत्सव कार्यक्रम में 12 लाख दीयों की रोशनी से राम नगरी जगमगा रही है। केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी और यूपी के सीएम योगी आदित्यानाथ समेत कई नेता इस समारोह में शामिल होने के लिए अयोध्या पहुंचे हैं।

अयोध्या नगरी इस समय लाखों दीयों से जगमगा रही है। भगवान राम की इस नगरी की सुंदरता सभी का मन मोह रही है। सरयू नदी के किनारे लाखों दीये एक साथ जगमगा रहे हैं। इस कार्यक्रम के दौरान शानदार आतिशबाजी भी हुई। इस दौरान अयोध्या का यह कार्यक्रम वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बना गया। इसके लिए गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स की एक टीम भी अयोध्या पहुंची थी।

समारोह को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग 31 साल पहले रामभक्तों पर गोलियां चला रहे थे, वो आपकी ताकत के आगे झुके हैं। अब लगता है कि अगर कुछ और वर्ष आप इसी तरीके से ले चले, तो अगली कारसेवा के लिए वो और उनका पूरा खानदान लाइन में लगा होगा। उन्होंने कहा- “आप देखना कि अगर अगली कारसेवा होगी, तो गोली नहीं चलेगी। रामभक्तों व कृष्णभक्तों पर पुष्पों की वर्षा होगी”।

शानदार आतिशाबाजी का नजारा

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि पांच साल पहले ये आयोजन इस भव्य रूप में नहीं हो पाता था। लेकिन हमारी सरकार ने इस आयोजन को पांच वर्ष पहले यहां प्रारंभ किया था और तब से लगातार ये आयोजन नई ऊचांइयों को छूता हुआ दिखाई दे रहा है।

सीएम योगी ने आगे कहा- पांच वर्ष पहले अयोध्या में दीपोत्सव की चर्चा सामने आई थी। अयोध्या में ही आज के दिन ये आयोजन नहीं हो रहा था। हमारी सरकार ने तय किया कि अयोध्या को उसकी नई पहचान दीपोत्सव कार्यक्रम से माध्यम से दिलवानी है। मुझे याद है कि 2017, 2018, 2019 में भी एक ही नारा गूंज रहा था- ‘योगी जी एक काम करो, मंदिर का निर्माण करो।’ मैं तब भी कह रहा था कि मंदिर निर्माण के लिए आधारशिला तैयार की जा रही है”।

इस दौरान योगी ने पहले की सरकारों पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा- “31 साल पहले अयोध्या में क्या हो रहा था। 30 अक्टूबर और 2 नवंबर 1990 को रामभक्तों पर बर्बर तरीके से गोलियां चलाई गईं थीं। बर्बर लाठीचार्ज हो रहा था। तब ‘जय श्रीराम’ बोलना अपराध माना जा रहा था।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि पिछली सरकारों में बैठे लोगों ने किस तरह देश का अपमान किया। पहले लोग चंदन लगाने में डरते थे, मंदिर में जाने से डरते थे। जहां मंदिर निर्माण की बात होती थी, वहां शौचालय और हॉस्पिटल बनाने की बात करते थे। पिछली सरकारों में न कानून का राज था, न समाज का राज था। देश के अंदर आतंकियों ने, नक्सलियों ने राज किया। लोगों ने सपा, बसपा, कांग्रेस का राज देखा। उस वक्त धार्मिक स्थलों को किस तरीके से चोट पहुंचाई जाती थी।

इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए अयोध्या पहुंचे केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि अयोध्या विश्व के सर्वाधिक पर्यटन वाली नगरी में से एक बनेगी। प्रतिवर्ष भगवान श्रीराम के प्रति आस्था प्रकट करने के लिए पर्यटक अयोध्या आते हैं। जल्द ही भगवान श्री राम का भव्य मंदिर बनकर तैयार होगा।

इस अवसर पर अयोध्या में शोभयात्रा निकाली गई। यूपी डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने भगवान राम की इस शोभयात्रा को रवाना किया। जिसके बाद राम और सीता को हेलीकॉप्टर के जरिए समारोह स्थल पर लाया गया। यहां सीएम योगी ने इनका स्वागत किया। दीपोत्सव कार्यक्रम में करीब 12 लाख दीयों से घाट सजाए गए हैं।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट