ताज़ा खबर
 

Success Story: पहले कुली, फिर 10 साल तक बेची चाय, अब North Delhi का मेयर बना यह शख्स

दिल्ली के उत्तरी इकाई यानी एनडीएमसी में सिविल लाइंस के पार्षद अवतार सिंह को मेयर चुना गया है। दरअसल, अवतार सिंह पहले कुली का काम करते थे, जिसके बाद उन्होंने 10 साल तक चाय भी बेची थी।

Author Updated: April 30, 2019 8:46 AM
7 साल की उम्र में आरएसएस से जुड़ गए थे अवतार सिंह। फोटो सोर्स : इंडियन एक्सप्रेस

Lok Sabha Election 2019 के छठे चरण के दौरान दिल्ली की सातों सीटों पर लोकसभा चुनाव होंगे, लेकिन उससे पहले ही बीजेपी के लिए एक अच्छी खबर है। दिल्ली के उत्तरी इकाई यानी एनडीएमसी में सिविल लाइंस के पार्षद अवतार सिंह को मेयर चुना गया है। दरअसल, अवतार सिंह पहले कुली का काम करते थे, जिसके बाद उन्होंने 10 साल तक चाय भी बेची थी।

मतदान से पहले लोगों को संदेश देने की कोशिश : बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने बताया, ‘‘पार्टी ने अवतार सिंह पर इसलिए विश्वास दिखाया, क्योंकि वह काफी मेहनती नेता हैं। वह मल्लाह समुदाय से ताल्लुक रखते हैं और सिख भी हैं। ऐसे में दिल्ली में लोकसभा चुनाव से पहले लोगों में सकारात्मक संदेश जाएगा।’’

National Hindi News, 30 April 2019 LIVE Updates: दिनभर की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

ऐसे किया संघर्ष : अवतार सिंह बताते हैं कि वह 1989 में दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल में कुली का काम करते थे। यह सिलसिला करीब 2 साल तक जारी रहा। इसके बाद उन्होंने अपना छोटा-सा कारोबार करने की योजना बनाई। अवतार बताते हैं कि उन्होंने पीपल के पेड़ के नीचे करीब 10 साल तक चाय बेची। इस दौरान उन्होंने दूसरे बिजनेस जैसे कुरियर सर्विस आदि में भी हाथ आजमाया।

7 साल की उम्र में RSS से जुड़े : अवतार सिंह के मुताबिक, जब वह 7 साल के थे, उस वक्त आरएसएस से जुड़ गए थे। अपने स्ट्रगल के दौरान भी वह संगठन के लिए काम करते रहे। उन्होंने रामलीला में भी कई किरदार निभाए हैं।

तीनों निगम में बीजेपी का बहुमत : बता दें कि दिल्ली के तीनों नगर निगम एनडीएमसी, ईडीएमसी और एसडीएमसी में बीजेपी के पास बहुमत है। इस दौरान ईडीएमसी में अंजू कमलकांत और एसडीएमसी में सुनीता कांगड़ा को मेयर प्रत्याशी घोषित किया गया था। दोनों ही प्रत्याशी अनुसूचित जाति से ताल्लुक रखते हैं। वहीं, कांगड़ा को मेयर चुना जा चुका है।

डिप्टी मेयर के लिए भी प्रत्याशी तय : ईडीएमसी, एनडीएमसी और एसडीएमसी में डिप्टी मेयर के लिए भी प्रत्याशी चुन लिए गए हैं। इन पदों के लिए क्रमश: संजय गोयल, योगेश वर्मा और राज दत्त को उतारा गया है। बता दें कि रोटेशन पॉलिसी के तहत इस साल मेयर पद अनुसूचित जाति के प्रत्याशियों के लिए रिजर्व है। चुने गए मेयर व डिप्टी मेयर का कार्यकाल एक वर्ष तक रहेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 चक्रवाती तूफान में बदल सकता है साइक्लोन फेनी, ओडिशा-केरल समेत कई राज्यों में हाई अलर्ट घोषित
2 National Hindi News, 30 April 2019 highlights: Lok Sabha Elections 2019: आजम खान पर फिर लगा बैन, आचार संहिता का किया उल्लंघन