ताज़ा खबर
 

पंजाब यूनिवर्सिटी में छात्रों ने किया हिंसक प्रदर्शन, घायल हुए मीडियाकर्मी, 52 छात्र गिरफ्तार

पंजाब विश्वविद्यालय (पीयू) में फीस वृद्धि के खिलाफ आज यहां प्रदर्शन के हिंसक हो जाने के बाद 52 विद्यार्थी गिरफ्तार कर लिए गए।
Author चंडीगढ़ | April 12, 2017 14:01 pm
पंजाब विश्वविद्यालय (पीयू) में फीस वृद्धि के खिलाफ आज यहां प्रदर्शन के हिंसक हो जाने के बाद 52 विद्यार्थी गिरफ्तार कर लिए गए।

पंजाब विश्वविद्यालय (पीयू) में फीस वृद्धि के खिलाफ आज यहां प्रदर्शन के हिंसक हो जाने के बाद 52 विद्यार्थी गिरफ्तार कर लिए गए। प्रदर्शनकारी विद्यार्थी पुलिस से भिड़ गये जिसपर पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इस झड़प में दोनों तरफ के कई लोग घायल हो गए।
प्रदर्शन के दौरान कुछ मीडियाकर्मी भी घायल हो गए। पुलिस ने यहां बताया कि दंगा फैलाने और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज किये जाने के बाद पुलिस ने 52 विद्यार्थियों को गिरफ्तार कर लिया है। ये 52 विद्यार्थी उन 66 विद्यार्थियों में से हैं जिनकी पहचान विश्वविद्यालय प्रशासन ने की थी। प्रदर्शनकारी विद्यार्थी फीस वृद्धि के मुद्दे विश्वविद्यालय परिसर में कुलपति अरूण कुमार ग्रोवर के साथ बातचीत करना चाहते थे। वे इस मुद्दे पर विश्वविद्यालय बंद आयोजित कर रहे थे।

जब विद्यार्थियों को बातचीत के लिए नहीं बुलाया गया तो उन्होंने विश्वविद्यालय परिसर में पुलिस बैरीकेड लांघकर कुलपति के कार्यालय में जबरन घुसने की कोशिश की। पुलिस विद्यार्थियों को तितर-बितर करने के लिए पानी की बौछारें छोड़ने लगी। जब विद्यार्थियों ने पथराव एवं फूलों के गमले फेंकना शुरू कर दिया तब पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे एवं लाठी चार्ज किया। इसमें कई विद्यार्थी घायल हो गए।
स्टूडेंट्स फार सोसायटी (एसएफएस), नेशनल स्टूडेंट यूनियम आॅफ इंडिया (एनएसयूआई) और पंजाब यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स यूनियन (पुसु) के सदस्यों समेत विद्यार्थियों ने हाल की फीस वृद्धि के खिलाफ विश्वविद्यालय बंद कर रखा था।  एसपी इशा सिंघल ने कहा, ‘‘विद्यार्थियों के हिंसक हो जाने के बाद हमने बल प्रयोग किया। उन्होंने कहा, ‘‘हमारे 22 पुलिसकर्मी घायल हो गए।

प्रदर्शन कर रहे विद्यार्थियों ने पुलिस पर पथराव किया, कार्यालय की खिड़कियां तोड़ दीं और विश्वविद्यालय की संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया। पुलिस द्वारा दौड़ाए जाने पर कुछ विद्यार्थी विश्वविद्यालय परिसर में ही स्थित गुरुद्वारे में घुस गए और वहीं छिपे रहे। उन्हें गुरुद्वारे से बाहर आने को मनाने के लिए पुलिस अधिकारियों को बुलाया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.