ताज़ा खबर
 

असम: बीजेपी सांसद की धमकी सुनकर थाने में ही बेहोश हो गया पुलिस अफसर

असम में एक पुलिस अफसर को अपनी ड्यूटी निभाने के लिए इनाम के बजाए धमकी मिली।

बीजेपी सांसद कामाख्या प्रसाद तासा। (Source: Twitter)

असम में एक पुलिस अफसर को अपनी ड्यूटी निभाने के लिए इनाम मिलने के बजाए डांट पड़ने का मामला सामने आया है। इस डांट का असर पुलिस अफसर के स्वास्थ्य पर भी पड़ गया। इंडिया टुडे ग्रुप की खबर के मुताबिक यहां एक बीजेपी सांसद कथित रूप से एक पुलिस अफसर को ऐसी धमकी दी कि वह बेहोश हो गया। खबर के मुताबिक बीजेपी सांसद कामाख्या प्रसाद तासा ने पुलिस अफसर को धमकी दी जिसके बाद वह बेहोश हो गए। मामला घरमुर चौकी पुलिस स्टेशन का है। यहां के इंचार्ज ऑफिसर प्रकाश शर्मा मौजूद थे जिन्हें सांसद की बदजूबानी का शिकार होना पड़ा।

खबर के मुताबिक घरमुर चौकी पुलिस स्टेशन को लनकोन नायक नाम के एक शख्स के खिलाफ एक गैर-कानूनी हथियार रखने की शिकायत मिली थी। पुलिस ने उसके घर पर रेड डालकर कुछ बम और पिस्तौल की 6 गोलियां बरामद की थी। वहीं नायक को भी गिरफ्तार कर लिया गया था और उसे थाने ले जाया गया। इतने में सांसद के भाई अश्विनी तासा ने कथित रूप से पुलिस का रास्ता रोक लिया और नायक को ले जाने का विरोध किया। उसने कहा कि पुलिस उसे(नायक) को गिरफ्तार नहीं कर सकती और ऐसा करके वे एक बेसकूर आदमी को परेशान कर रहे हैं।

कई बार चेतावनी देने के बाद भी जब अश्विनी नहीं माना तो पुलिस ने उसे भी कार्रवाई में बाधा डालने के मामले में गिरफ्तार कर लिया। दोनों को गिरफ्तार कर पुलिस थाने ले जाया गया। कुछ देर के भीतर ही थाने पर सांसद खुद पहुंच गए। खबर के मुताबिक सांसद ने थाने में काफी हंगामा किया और कहा उनके भाई के खिलाफ लगाए गए चार्जिस बेबुनियाद है और दोनों को छोड़ देना चाहिए। मामले को लेकर तनाव बढ़ने लगा और सांसद लगातार अफसर को धमकाते रहे जिसके कुछ समय बाद अफसर प्रकाश शर्मा बेहोश हो गए। शर्मा के बेहोश होते ही उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया। एक ऐम्बुलेंस बुलाकर उन्हें तुरंत ही पास ही के एक अस्पताल ले जाया गया। खबर के मुताबिक इस घटना के बाद सांसद अपने भाई अश्विनी और नायक को लेकर वहां से चले गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App