ताज़ा खबर
 

असम चुनाव में केवल 8.6 फीसद महिला उम्मीदवार

पिछले विधानसभा चुनाव में 77.02 फीसद पुरुषों जबकि 75 फीसद महिलाओं ने मतदान किया था। असम विधानसभा में कुल 126 सीटें हैं।

Author गुवाहाटी | April 10, 2016 12:43 AM
असम के नागांव में नरेंद्र मोदी की रैली के दौरान भाजपा समर्थक। (पीटीआई फोटो)

असम में विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान में महिलाओं ने भले ही पुरुषों को पछाड़ दिया हो लेकिन इस चुनाव में कुल उम्मीदवारों में से केवल 8.6 फीसद महिलाएं ही अपनी किस्मत आजमा रही हैं। 2011 चुनाव के मुकाबले सभी बड़े राजनीतिक दलों ने इस बार कम महिलाओं को टिकट दिए हैं। 2011 के मुकाबले इस बार चुनावी मैदान में केवल छह महिलाएं ही अधिक हैं। पिछली बार 85 महिलाएं मैदान में थी और उनमें से 14 (सभी कांग्रेस) महिलाएं विधायक चुनी गई थीं।

सभी महत्त्वपूर्ण पार्टियां, कांगे्रस, भाजपा और इसके गठबंधन सहयोगियों अगप, और बीपीएफ और एआइयूडीएफ ने पिछले चुनाव के मुकाबले इस बार कम महिलाओं को टिकट दिया है। सत्तारूढ़ कांगे्रस ने अपनी 12 वर्तमान विधायकों सहित 16 महिलाओं को टिकट दिया है जबकि पिछले चुनाव में पार्टी ने 19 महिलाओं को टिकट दिया था। कांग्रेस की दो वर्तमान विधायक अलगपुर से मंदिरा राय और दुलिआजान से अमिया गोगोई को टिकट नहीं दिया गया है जबकि इस बार चार नए चेहरों बबीता शर्मा को गुवाहाटी (पूर्व), डाक्टर जूरी शर्मा बारदोलई को गुवाहाटी (पश्चिम), अंगकिता दत्ता को अमगुरी और पल्लबी सैकिया गोगोई को टेओक से उम्मीदवार बनाया गया है।

HOT DEALS
  • I Kall Black 4G K3 with Waterproof Bluetooth Speaker 8GB
    ₹ 4099 MRP ₹ 5999 -32%
    ₹0 Cashback
  • Nokia 6.1 2018 4GB + 64GB Blue Gold
    ₹ 16999 MRP ₹ 19999 -15%
    ₹2040 Cashback

भाजपा 89 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। उसने 2011 में नौ के मुकाबले इस बार केवल छह महिलाओं को मैदान में उतारा है। अगप के साथ भी यह मामला है। उसने केवल दो महिलाओं को टिकट दिया है जबकि पिछले चुनाव में आठ महिलाओं को टिकट दिया गया था। भाजपा के अन्य गठबंधन सहयोगी बीपीएफ ने 2011 में तीन महिला उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतारा था जबकि इस बार केवल दो महिलाओं को टिकट दिया है। 74 सीटों पर चुनाव लड़ रही विधानसभा में मुख्य विपक्षी पार्टी एआइयूडीएफ ने पांच महिला उम्मीदवारों को टिकट दिया है।

माकपा, भाकपा (माले), समाजवादी पार्टी, तृणमूल कांग्रेस और यूनाईटेड पीपुल्स पार्टी ने केवल एक-एक महिला उम्मीदवार को टिकट दिया है जबकि एसयूसीआइ ने तीन महिला उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है। असम में चार अप्रैल को 65 सीटों के लिए हुए पहले चरण के मतदान में महिला मतदाताओं का फीसद पुरुषों की तुलना में अधिक रहा था। चुनावी आंकड़ों में बताया गया है कि महिला मतदाताओं का फीसद 82.58 फीसद रहा जबकि पुरुषों का फीसद 81.84 फीसद रहा।

पिछले विधानसभा चुनाव में 77.02 फीसद पुरुषों जबकि 75 फीसद महिलाओं ने मतदान किया था। असम विधानसभा में कुल 126 सीटें हैं। सबसे अधिक चार महिला उम्मीदवार कोकराझार (पश्चिम) सीट पर हैं। असम में 2016 के विधानसभा चुनाव में कुल 1,064 उम्मीदवार अपना भाग्य आजमा रहे हैं जिसमें से 43 महिलाएं पहले चरण में उम्मीदवार थी जबकि 48 महिलाएं दूसरे चरण में मैदान में हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App