scorecardresearch

असम में चुनाव लड़ेगी लालू की राजद, कांग्रेस नीत महागठबंधन में RJD

असम में 126 सदस्यीय विधानसभा सीटों के लिए तीन चरणों 27 मार्च, एक और छह अप्रैल को वोटिंग होगी।

Lalu Yadav,Lal Krishna Advani, RJD
आरजेडी चीफ लालू यादव। ( सोर्स – एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

बिहार के पूर्व सीएम और चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने असम में चुनाव लड़ने की घोषणा की है। पार्टी ने मंगलवार को कहा कि वह असम में विपक्षी कांग्रेस नीत महागठबंधन में शामिल हुई है और राज्य विधानसभा चुनाव के पहले चरण में एक सीट पर किस्मत आजमाएगी।

RJD के शामिल होने के बाद महागठबंधन के घटक दलों की संख्या आठ हो गई है। राजद की असम इकाई के अध्यक्ष शोनारुल शाह मुस्तफा ने कहा कि पार्टी औपचारिक रूप से विपक्षी गठबंधन में शामिल हो गई है और तिनसुकिया सीट पर किस्मत आजमाएगी जहां 27 मार्च को पहले चरण में मतदान होगा। उन्होंने कहा कि अब दूसरे और तीसरे चरण के मतदान के लिए सीट बंटवारे पर सहमति को अंतिम रूप देने के लिए राजद और कांग्रेस के नेताओं के बीच बातचीत चल रही है।

बता दें कि असम में 126 सदस्यीय विधानसभा सीटों के लिए तीन चरणों 27 मार्च, एक और छह अप्रैल को वोटिंग होगी। इधर चुनाव में कांग्रेस ने अपने 40 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है। पहले चरण में 47 सीटों पर मतदान होना है। पार्टी के उम्मीदवारों की पहली सूची में 20 नए चेहरे हैं और छह मौजूदा विधायक हैं। इनमें कांग्रेस विधायक दल के नता देबब्रत सैकिया का नाम भी शामिल है, जो नजीरा से उम्मीदवार बनाए गए हैं।

भारतीय जनता पार्टी की नजर प्रतिष्ठित टीटाबोर सीट पर है जबकि कांग्रेस इस सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखना चाहती है। प्रदेश के तीन बार मुख्यमंत्री रह चुके तरुण गोगोई इस सीट से विधायक थे। पिछले साल 23 नवंबर को कोविड के बाद की जटिलताओं के चलते उनका निधन हो गया था।

मालूम हो कि विधानसभा चुनाव के दौरान नकदी, शराब, ड्रग्स और अन्य वस्तुओं की जब्ती के मामले में असम ने अपने पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। विभिन्न एजेंसियों ने अभी तक राज्य से 18 करोड़ रुपए कीमत का सामान जब्त किया है। साथ ही पिछले 11 दिनों में 100 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। एक अधिकारी ने बताया कि सबसे ज्यादा 5.72 करोड़ रुपए कीमत की जब्ती रविवार सुबह नौ बजे के बाद 24 घंटों के भीतर हुई है।

उन्होंने बताया कि 26 फरवरी को चुनावी अधिसूचना जारी होने के बाद असम ने सभी विधानसभा क्षेत्रों के लिए न्यूनतम तीन-तीन स्टैटिक र्सिवलांस टीमों (एसएसटी) और उड़न दस्तों का गठन किया। कई क्षेत्रों में इनकी संख्या छह भी है। अधिकारी ने बताया, ‘राज्य भर में कम से कम 756 टीमें काम कर रही हैं। एसएसटी और उड़न दस्तों सहित राज्य और केन्द्रीय एजेंसियों द्वारा अभी तक की गई जब्ती पिछले सभी चुनावों का रिकॉर्ड तोड़ चुकी है।’

असम निर्वाचन विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद से सोमवार तक एजेंसियों ने 18.31 करोड़ रुपए कीमत की जब्ती की है। रिपोर्ट के अनुसार, 4.27 करोड़ रुपए नकद, 5.52 करोड़ रुपए कीमत की शराब (3.58 लाख लीटर), चार करोड़ रुपए कीमत के मादक पदार्थ, एक करोड़ रुपए कीमत की महंगी धातु, जैसे सोना-चांदी और 3.52 करोड़ रुपए कीमत के अन्य सामान्य शामिल हैं।

आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद से विभिन्न टीमों ने 100 लोगों को अवैध शराब से जुड़े मामलों में और आठ लोगों को मादक पदार्थों से जुड़े मामले में गिरफ्तार किया है। पिछले 11 दिनों में सबसे ज्यादा 26 लोग कछार जिले से गिरफ्तार किए गए हैं जबकि गोआलपाड़ा से 16 और शिवसागर जिले से 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। (एजेंसी इनपुट)

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.