ताज़ा खबर
 

असम के दस लाख से ज्यादा युवाओं को मिलेगा रोजगार: राहुल

राहुल ने यह भी आरोप लगाया कि केंद्र की भाजपा सरकार अमीरों का भला कर रही है और सिर्फ कुछ उद्योगपतियों के लिए प्रतिबद्ध है।
Author गोआलपाड़ा (असम) | April 4, 2016 22:55 pm
असम में चुनावी रैली को संबोधित करते कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी। (पीटीआई फोटो)

असम विधानसभा चुनाव के दूसरे और अंतिम चरण के मतदान के लिए प्रचार करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि उनकी पार्टी दस लाख से ज्यादा युवाओं को रोजगार मुहैया कराने के लिए ‘मेक इन असम’ पहल के प्रति कटिबद्ध है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल ने यहां एक चुनाव रैली में कहा, ‘हमारी पार्टी गरीबों के कल्याण और विकास के लिए प्रतिबद्ध है। तरूण गोगोई की अगुआई वाली सरकार राज्य के युवाओं को रोजगार मुहैया कराने के लिए ‘मेक इन असम’ के प्रति कटिबद्ध है।’ राज्य में सोमवार को पहले चरण का मतदान हुआ। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेक इन इंडिया की बात करते हैं लेकिन कांग्रेस के लिए असम का विकास और इसके युवा प्राथमिकता हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सत्ता में आने से पहले 2001 में समूचे राज्य में हिंसा और हत्याएं छाई हुई थीं। कांग्रेस स्थानीय लोगों का विकास सुनिश्चित करने के लिए प्रेम और संवेदना की अपनी नीति के साथ एक बदलाव लेकर आई।

राहुल ने कहा कि कांग्रेस ही राज्य में शांति लेकर आई और विकास प्रक्रिया सुनिश्चित की जिसकी वजह से प्रति व्यक्ति आय बढ़ी, 24 हजार किलोमीटर से ज्यादा की सड़कें बनीं, तीन नए मेडिकल कालेजों की स्थापना हुई। राज्य के सात लाख से ज्यादा छात्रों को छात्रवृत्ति मिली। उन्होंने कहा कि कांग्रेस उस तरह के झूठे वायदे नहीं करती जैसे कि मोदी ने लोकसभा चुनाव से पहले किए थे। कांग्रेस देश में गरीब की स्थिति में सुधार के लिए अपना खून पसीना बहाकर कठिन परिश्रम करती है। राहुल ने कहा कि यदि कांग्रेस सत्ता में लौटती है तो वह इस विकास प्रक्रिया को जारी रखेगी और असम के युवाओं को और ज्यादा नौकरियां, दो लाख से ज्यादा शिक्षकों को रोजगार, सिविल सेवा की तैयारी के लिए गरीब परिवारों के बच्चों के लिए छात्रवृत्ति की व्यवस्था करेगी। किसानों की समस्याओं का समाधान करेगी कि उन्हें अपने उत्पादों के लिए उचित मूल्य और बाजार मिल सके।

उन्होंने कहा, ‘मैंने मुख्यमंत्री तरूण गोगोई से भी कहा है कि वह उन लोगों को आधुनिक अस्पतालों में चिकित्सा सहायता उपलब्ध कराएं जिनकी सालाना आय 2.5 लाख रुपए से कम है।’ कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस गरीब की सुरक्षा की चिंता करती है। वह भाजपा की तरह नहीं है जो केवल समाज में विभाजन पैदा करने में रुचि रखती है, जो नागपुर से आरएसएस की विचारधारा से निर्देशित है।’ उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसानों, मजदूरों, युवाओं, महिलाओं, कमजोर तबकों का ख्याल रखती है।

राहुल ने यह भी आरोप लगाया कि केंद्र की भाजपा सरकार अमीरों का भला कर रही है और सिर्फ कुछ उद्योगपतियों के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि विजय माल्या ने हजारों करोड़ रुपए की लूट की और भाजपा सरकार ने उसे देश छोड़ने की इजाजत दे दी। प्रधानमंत्री कहते कुछ हैं, करते कुछ हैं। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि मोदी ने लोकसभा चुनाव से पहले वायदा किया था कि वह काले धन की वापसी सुनिश्चित करेंगे और सभी नागरिकों के खाते में 15-15 लाख रुपए जमा करेंगे, लेकिन अब वह फेयर एंड लवली योजना से काले धन को सफेद धन में बदलने की कोशिश कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.