ताज़ा खबर
 

पंजाब में सत्ता में आए तो खनन माफिया पर लगाएंगे रोक: केजरीवाल

केजरीवाल ने जलंधर में उद्योगपतियों के साथ बैठक में कहा कि राज्य में भ्रष्टाचार चरम पर है। इसे पूरी तरह खत्म करने की दवाई हमारे पास है।

Author बटाला/जलंधर | February 29, 2016 12:24 AM
ढिलवांकलां कपूरथला में रविवार को एक रैली में हास्य कलाकार गुरप्रीत घुग्गी के साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (पीटीआई फोटो)

पंजाब में खनन माफिया की ओर से पत्थर काटने वाली इकाइयों के मालिकों से वसूली करने का आरोप लगाते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के समन्वयक अरविंद केजरीवाल ने रविवार को घोषणा की कि 2017 के विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी के सत्ता में आने पर 24 घंटे के भीतर समस्या का अंत कर देगी।

विधानसभा चुनाव से पहले मतदाताओं तक पहुंचने के लिए राज्य के पांच दिन के दौरे पर आए केजरीवाल ने यहां एक रैली में कहा- मैं यह जानकर हैरान हूं कि पत्थर काटने वाली कानूनी इकाइयों के मालिकों को पंजाब में खनन माफिया को ‘गुंडा कर या जजिया’ देना होता है। मैं घोषणा करता हूं कि आप के सत्ता में आने के 24 घंटे के भीतर राज्य में इस पर रोक लगा दी जाएगी। पत्थर काटने वाली इकाइयों के मालिकों सहित व्यापारिक समुदाय के सदस्य रविवार को केजरीवाल से मिले और आरोप लगाया कि वसूली करने वालों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। उन्होंने अपने खिलाफ फर्जी मामले दर्ज कराए जाने का भी आरोप लगाया। केजरीवाल ने कहा कि सत्ता में आने पर आप इस तरह के मामलों की समीक्षा के लिए एक आयोग का गठन करेगी और इन्हें शरण देने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करेगी।

जलंधर में लगाए गए दिल्ली की आप सरकार के कामकाज के रिकार्ड पर सवाल करते पोस्टरों से जुड़ी खबर को लेकर प्रतिक्रिया में आप नेता ने अकाली दल पर वार करते हुए कहा कि उन्होंने अपने दस साल के शासन में राज्य को बर्बाद कर दिया। केजरीवाल ने कहा कि उनकी सरकार ने एक साल में दिल्ली में जो उपलब्धियां हासिल की हैं उतनी कोई भी सरकार 65 साल में नहीं कर पाई। उन्हें पूरा यकीन है कि दिल्ली में इस समय चुनाव कराने पर दूसरी पार्टियां एक भी सीट नहीं जीत पाएंगी।

भाजपा जिला अध्यक्ष सुरेश भाटिया और नगर परिषद अध्यक्ष नरेश महाजन के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ताओं ने यहां के गांधी चौक पर केजरीवाल का घेराव करने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक दिया। पुलिस ने उन पर हल्का लाठीचार्ज किया, जिसमें एक व्यक्ति घायल हो गया। करीब 80 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया और केजरीवाल के रवाना होने के बाद रिहा कर दिया गया।

केजरीवाल ने जलंधर में उद्योगपतियों के साथ बैठक में कहा कि राज्य में भ्रष्टाचार चरम पर है। इसे पूरी तरह खत्म करने की दवाई हमारे पास है। उन्होंने कहा- मैं पिछले चार दिन से पंजाब में हूं। जहां कहीं भी गया हूं, भ्रष्टाचार की सूचना मिली है। सरकारी भ्रष्टाचार ने प्रदेश को पिछड़ा बना दिया है। पंजाब से भ्रष्टाचार को केवल हम ही मिटा सकते हैं। दिल्ली का इसका प्रत्यक्ष उदाहरण है। हमने 49 दिन की सरकार में ही भ्रष्टाचार को खत्म कर दिया था। यही वजह है कि वहां की जनता ने हमें पूरा सहयोग दिया और 69 में से 67 सीटों पर जीत हासिल हुई।

उन्होंने कहा कि उद्योग में अग्रणी पंजाब आज पिछड़ गया है। उद्योग-धंधे यहां से दूसरे राज्यों में जा रहे हैं। मैं आपको आश्वासन देता हूं कि हमारी सरकार बनने पर उद्योग-धंधों से संबंधित कोई भी नीति बनेगी तो आप सबकी मंजूरी के बाद ही बनेगी। हमें यहां के उद्योग-धंधों को दोबारा ऊंचाई तक ले जाना है। उन्होंने कहा कि पंजाब की आवाम परेशान है और बदलाव चाहती है। उनकी पार्टी ने लोगों को एक बेहतर विकल्प का मौका दिया है।

यहां अग्रवाल समाज के साथ एक होटल में बैठक के दौरान युवा कांग्रेस के नेताओं ने उन्हें काला झंडा दिखाया और केजरीवाल के विरोध में नारे लगाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App