मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जंग पर लगाया मंत्रियों की जासूसी का आरोप - Jansatta
ताज़ा खबर
 

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जंग पर लगाया मंत्रियों की जासूसी का आरोप

इसके पहले छह जून को केजरीवाल ने नजीब जंग को पत्र लिख कर कहा कि वह केंद्रीय गृह मंत्रालय के कहने पर जिन अधिकारियों और कंसलटेंट की जानकारी अपने दो पत्रों के माध्यम से मांगी थे

Author नई दिल्ली | June 8, 2016 3:17 AM
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (पीटीआई फाइल फोटो)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को उपराज्यपाल नजीब जंग पर जासूसी करने का आरोप लगाया। केंद्र के साथ अपनी लड़ाई तेज करते हुए उन्होंने नजीब जंग पर आरोप लगाया कि वे दिल्ली के मुख्यमंत्री और मंत्रियों की सूचना गुप्त रूप से प्रधानमंत्री कार्यालय को दे रहे हैं। आम आदमी पार्टी ने इस मुद्दे पर भाजपा की केंद्र सरकार पर संवैधानिक ढांचे को तोड़ने की कोशिश करने का आरोप लगाया।

आप के राष्ट्रीय संयोजक और मुख्यमंत्री केजरीवाल ने केंद्र के साथ एक नए विवाद को जन्म देते हुए ट्वीट किया, ‘यह चौंकाने वाला है! एलजी मुख्यमंत्री और मंत्रियों की जासूसी कर रहे हैं। सीएम और मंत्रियों के यहां कौन लोग मिलने आते हैं, एलजी गुप्त रूप से इन सूचनाओं को इकट्ठा कर प्रधानमंत्री कार्यालय को सौंपते हैं।’

आप प्रवक्ता दिलीप पांडे ने कहा, ‘भाजपा का एक लंबा इतिहास रहा है कि वह सरकारी तंत्र का दुरुपयोग विरोधियों की जासूसी करने में करती रही है। यह भाजपा और मोदी दोनों के लिए शर्म की बात है कि पीएमओ का इस्तेमाल जासूसी जैसे काम में हो रहा है। पिछली बार के सीएम आफिस पर छापे से यह साबित होता है कि सीबीआइ को केजरीवाल के लिए छोड़ा गया है, यह सिस्टम का दुरुपयोग नहीं तो क्या है। प्रधानमंत्री अपने राजनीतिक वादों को पूरा नहीं कर पा रहे हैं और उनकी सारी ऊर्जा इस बात में जा रही है कि दिल्ली का कौन सा मंत्री किससे मिल रहा है। यह संवैधानिक ढांचे को तोड़ने और लोकतंत्र को कमजोर करने की कोशिश है। अच्छा हो कि केंद्र अपनी जिम्मेदारी निभाए और दिल्ली को स्वतंत्र छोड़ दे।’

इसके पहले छह जून को केजरीवाल ने नजीब जंग को पत्र लिख कर कहा कि वह केंद्रीय गृह मंत्रालय के कहने पर जिन अधिकारियों और कंसलटेंट की जानकारी अपने दो पत्रों के माध्यम से मांगी थे, उसे वह सीधे राजनाथ सिंह को भेज रहे हैं। केजरीवाल ने कहा कि इस विषय पर उपराज्यपाल के स्तर पर किसी कार्यवाही की आवश्यकता नहीं है।

जंग को लिखे अपने पत्र में केजरीवाल ने दिल्ली की बिगड़ती कानून व्यवस्था की ओर कड़े शब्दों में ध्यान खींचते हुए कहा – दिल्ली में कानून व्यवस्था बनाए रखने की जिम्मेदारी उपराज्यपाल के कंधे पर है। बड़े खेद के साथ कहना पड़ रहा है कि आप दिल्ली में कानून-व्यवस्था पर ध्यान देने के बजाय 24 घंटे दिल्ली सरकार के कामकाज में रोड़े अटकाने में लगे रहते हैं।

कभी उपराज्यपाल के माध्यम से तो कभी सीधे, केजरीवाल पहले भी प्रधानमंत्री और केंद्रीय संस्थानों पर हमला करते आए हैं और पीएम को गवर्र्नेंस पर ध्यान देने और अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों की जासूसी छोड़ने की सलाह दी है। सोमवार को भी केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा था कि दिल्ली में पूरी तरह जंगलराज है और प्रधानमंत्री और उपराज्यपाल खराब होती कानून व्यवस्था को नियंत्रित करने में नाकाम रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App