ताज़ा खबर
 

‘जब देश आजादी की 100वीं सालगिरह मना रहा होगा तब कश्मीर नहीं रहेगा भारत का हिस्सा’

Jammu and Kashmir (JK) Latest News Today: वाइको ने यह भी कहा कि उनकी पार्टी तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके (द्रविड़ मुनेत्र कझगम) के संस्थापक रहे अन्ना के नाम से मशहूर दिवंगत नेता सीएन अन्नादुराई की 110वीं जयंती मनाने का भी ऐलान किया।

Author चेन्नई | August 13, 2019 2:54 PM
एमडीएमके प्रमुख वायको (फोटो सोर्स: एएनआई)

Jammu-Kashmir and Article 370 Issue Latest News Update: तमिलनाडु की राजनीतिक पार्टी एमडीएमके के अध्यक्ष वाइको ने कश्मीर को लेकर बड़ा बयान दिया है। वाइको ने कहा कि जब भारत अपनी आजादी की 100वीं सालगिरह मना रहा होगा, तब कश्मीर भारत का हिस्सा नहीं रहेगा। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी पर गंभीर आरोप लगाते हुए मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, ‘बीजेपी ने कश्मीर को कीचड़ में धकेल दिया है। मैंने कश्मीर को लेकर पहले भी अपनी बात रखी थी। मैंने कांग्रेस पर 30 फीसदी और बीजेपी पर 70 फीसदी हमला बोला था।’

अन्ना की 110वीं जयंती मनाएगी एमडीएमकेः वाइको ने यह भी कहा कि उनकी पार्टी तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और डीएमके (द्रविड़ मुनेत्र कझगम) के संस्थापक रहे अन्ना के नाम से मशहूर दिवंगत नेता सीएन अन्नादुराई की 110वीं जयंती मनाने का भी ऐलान किया। उन्होंने कहा कि अगले महीने इससे जुड़े कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इस संबंध में पार्टी की एक मीटिंग रखी गई है।

National Hindi News, 13 August 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

बता दें कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को लेकर बीते हफ्ते मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लिया था। राज्य से विशेष राज्य का दर्जा वापस ले लिया गया है। अनुच्छेद 370 से अधिकांश प्रावधानों को हटा लिया गया है। इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को पुनर्गठन अधिनियम के तहत अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया गया है। हालांकि गृह मंत्री अमित शाह ने आश्वासन दिया है कि जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य होते ही पूर्ण राज्य का दर्जा फिर से बहाल कर दिया जाएगा। इस फैसले के कुछ घंटों पहले से ही एहतियातन जम्मू-कश्मीर में धारा 144 लगा दी गई थी। वहीं इंटरनेट और टेलीफोन पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया था।

Bihar News Today, 13 August 2019: बिहार से जुड़ी खास खबरों के लिए क्लिक करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 अयोध्या विवाद: क्या विवादित स्थल पर मंदिर था? सुप्रीम कोर्ट में पांचवें दिन हुई सुनवाई
2 शोध-अनुसंधानः भारतीय वैज्ञानिकों ने खोजा तपेदिक का मूल कारण
3 सोलो: अब दुनिया की निगाहों में लद्दाख का खास पौधा