MP: धर्मगुरु का आरोप- धर्मांतरण विरोधी कानून का इस्‍तेमाल करके ईसाइयों पर फर्जी केस थोप रही शिवराज सरकार - Jansatta
ताज़ा खबर
 

MP: धर्मगुरु का आरोप- धर्मांतरण विरोधी कानून का इस्‍तेमाल करके ईसाइयों पर फर्जी केस थोप रही शिवराज सरकार

हाल ही में कैथोलिक सेक्‍युलर फोरम ने दावा किया था कि आजादी के बाद भारतीय ईसाइयों के लिए 2015 सबसे बुरा साल रहा।

Author भोपाल | January 24, 2016 7:30 AM
आर्कबिशप ने सीधे तौर पर सीएम शिवराज सिह पर निशाना नहीं साधा पर सरकार के कामकाज पर सवाल उठाया।

आर्कबिशप लियो कॉरनेलियो ने शुकवार को आरोप लगाया कि मध्‍य प्रदेश में धर्मांतरण विरोधी कानून का गलत इस्‍तेमाल हो रहा है। ईसाईयों के खिलाफ जबरन धर्मांतरण के फर्जी केस थोपे जा रहे हैं। आर्कबिशप कॉर्नेलियो ने कहा, ”कट्टरपंथी तत्‍व इस बात का फायदा उठाना चाहते हैं कि बीजेपी सत्‍ता में है।” हाल ही में कैथोलिक सेक्‍युलर फोरम (CSF) ने दावा किया था कि आजादी के बाद भारतीय ईसाइयों के लिए 2015 सबसे बुरा साल रहा। सीएसएफ का यह भी कहना है कि एमपी में अल्‍पसंख्‍यक समुदाय के लोगों पर सबसे ज्‍यादा हमले हो रहे हैं।

आर्कबिशप ने कहा, ”चीफ मिनिट शिवराज सिंह चौहान की नीयत अच्‍छी है, लेकिन एक छोटा इंसान भी गलत हरकत कर सकता है, जब कट्टरपंथी तत्‍वों को यह लगे कि यह उनकी सरकार है। ”धर्मांतरण से जुड़े सवालों पर कॉर्नेलियो ने माना कि हर धर्म में कट्टरपंथी होते हैं, लेकिन इसके लिए धर्म को दोष नहीं दिया जा सकता। उन्‍होंने कहा, ”सैकड़ों स्‍टूडेंट्स ईसाई स्‍कूलों में पढ़ते हैं, लेकिन उनमें से कितने ऐसे हैं जो धर्मांतरण से जुड़ी शिकायत करते हैं?”

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App