scorecardresearch

यूपीः वापस लौटिएगा तो इस कसम के साथ कि उत्तर भारतीयों पर नहीं करेंगे अत्याचार- राज ठाकरे से बोलीं अपर्णा यादव

बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि उनकी पार्टी के सांसदों को राज ठाकरे के अयोध्या दौरे का विरोध नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा क‍ि कोई भी भगवान राम का आशीर्वाद लेने के लिए अयोध्या जा सकता है।

UP election results, Aparna yadav, bjp leader, om prakash rajbhar, SBSP, akhilesh Yadav
बीजेपी नेता अपर्णा यादव (image source: PTI)

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे 5 जून को अयोध्या में रामलला के दर्शन करने पहुंचेंगे। राज ठाकरे के उत्तर प्रदेश दौरे को लेकर छिड़ी राजनीत‍िक गहमागहमी के बीच बीजेपी नेता और मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू ने मनसे प्रमुख से उत्तर भारतीयों पर अत्याचार न करने का अनुरोध किया है।

भारतीय जनता पार्टी की नेता ने ट्वीट कर कहा, “राज ठाकरे जी आपका उत्तर प्रदेश में स्वागत है आप राम लला का दर्शन भी करिए क्योंकि राम लला सबके लिए पूजनीय हैं, लेकिन मेरा अनुरोध है कि जब आप वापस लौटे तो इस सौगंध के साथ कि आज के बाद उत्तर भारतीयों पर पहले की तरह कोई अभद्र टिप्पणी अथवा किसी तरह का अत्याचार नहीं करेंगे।”

अयोध्या आने से पहले मांगे माफी: उत्तर भारतीयों के अपमान को लेकर साधु संतों और कई नेताओं ने राज ठाकरे को अयोध्या आने से पहले माफी मांगने की बात कही है। यही नहीं कई महंतों और संतों ने अयोध्या की सड़कों पर बाकायदा पोस्टर बैनर और होर्डिंग लगाकर राज ठाकरे की अयोध्या दर्शन योजना का विरोध किया है।

इसके साथ ही यूपी में बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने भी अयोध्‍या आने से पहले राज ठाकरे को उत्‍तर भारतीयों के अपमान के बदले माफी मांगने को कहा है। महाराष्‍ट्र में कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने भी बीजेपी सांसद की मांग का समर्थन करते हुए कहा क‍ि उत्तर प्रदेश से मुंबई तक सबकी यही मांग है कि राज ठाकरे मुंबई के उत्तर भारतीयों से माफी मांगें।

महारानी पद्मावती यूथ ब्रिगेड ने किया समर्थन: वहीं, दूसरी ओर महारानी पद्मावती यूथ ब्रिगेड के कार्यकर्ताओं ने मनसे प्रमुख की अयोध्या यात्रा का समर्थन किया है। बहराइच में राज ठाकरे के समर्थन में बड़े-बड़े पोस्टर लगाए गए हैं। महारानी पद्मावती यूथ ब्रिगेड के राष्टीय अध्यक्ष भवानी ठाकुर का कहना है कि राज ठाकरे आयोध्या आएं, हम उनका लखनऊ में स्वागत कर अयोध्या में रामलला के दर्शन भी कराएंगे।

5 जून को पहुंचेंगे अयोध्या: वहीं, तमाम विरोध के बावजूद राज ठाकरे अयोध्या जाने पर अडिग हैं। मनसे की तरफ से बडे पैमाने पर तैयारियां शुरू की जा चुकी हैं। महाराष्ट्र के अलग-अलग शहरों से कार्यकर्ताओं को अयोध्या भेजने की तैयारी चल रही है और इसके लिए 11 ट्रेनें बुक की जा रही हैं। राज ठाकरे 5 जून को और शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे 10 जून को अयोध्या जाएंगे।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट