scorecardresearch

Ankita Murder Case: कांग्रेस ने पीएम मोदी और बीजेपी नेताओं पर साधा निशाना, कहा- PM ने न एक बयान दिया ना ही ट्वीट किया

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने पूछा कि किस VIP को बचाने के लिए इस मामले पर स्मृति ईरानी और भाजपा की अन्य महिला नेता मौन हैं।

Ankita Murder Case: कांग्रेस ने पीएम मोदी और बीजेपी नेताओं पर साधा निशाना, कहा- PM ने न एक बयान दिया ना ही ट्वीट किया
देहरादून में मीडिया से बातचीत करते प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा। (फोटो- फेसबुक)

Congress Party Expressed Concern Over Attitude Of BJP: उत्तराखंड की अंकिता भंडारी की हत्या के बाद लोगों में भारी आक्रोश और सरकार पर जांच में कोताही न बरते जाने के दबाव के बाद तेजी से चल रही जांच पड़ताल तथा आरोपियों की गिरफ्तारी हो जाने के बाद अब इसको लेकर सियासी बयानबाजी शुरू हो गई है। कांग्रेस पार्टी ने आरोप लगाया है कि इस हत्याकांड पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर भाजपा के तमाम नेताओं की चुप्पी से उनकी असंवेदनशीलता साफ जाहिर हो रही है।

सोमवार को देहरादून में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने मीडिया से बातचीत में जांच के लिए गठित एसआईटी पर भी सवाल उठाया और कहा कि अंकिता की हत्या के मुख्य आरोपी तथा रिजॉर्ट संचालक पुलकित आर्य के पिता से हाथ मिलाने वाली पुलिस की जांच पर उन्हें भरोसा नहीं है। इससे पहले सोमवार को राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता रीश रावत ने अंकिता के परिवार वालों से मुलाकात कर घटना पर दुख जताया था।

भाजपा महिला नेता और भाजपा संगठन पर भी उठाया सवाल

कहा कि पीएम अपने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में चीतों के लिए नाम के सुझाव मांग रहे हैं लेकिन दुख की बात है कि उत्तराखंड की बेटी के लिए उनकी तरफ से न तो कोई संवेदनशील बयान आया और न ही उन्होंने इस बारे में कोई ट्वीट ही किया, ”यह बहुत शर्मनाक है। कहा कि आज प्रधानमंत्री, भाजपा की महिला नेता और पूरा भाजपा संगठन बेनकाब हो गया है। पूरे प्रदेश में जहां कांग्रेस तथा अन्य दल घटना का विरोध कर रहे हैं, वहीं भाजपा, उसके आनुषांगिक संगठन और महिला नेता पूरे परिदृश्य से गायब हैं।”

सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा- ‘फास्ट ट्रैक’ अदालत में चलेगा केस

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को अंकिता भंडारी की हत्या के आरोपियों को शीघ्र सजा दिलाने के लिए मुकदमा ‘फास्ट ट्रैक’ अदालत में चलाने का आश्वासन दिया। वहीं, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) से मिली अंतिम पोस्टमार्टम रिपोर्ट अंकिता के परिजनों को दिखायी गई।

पुलिस उप महानिरीक्षक (अपराध एवं कानून-व्यवस्था) पी रेणुका देवी की अध्यक्षता में गठित एसआईटी ने घटनास्थल पंहुचकर उसका गहनता से निरीक्षण किया और साक्ष्य इकटठे किए। शारदीय नवरात्र के पहले दिन नंदा गौरा योजना के लिए यहां आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘बेटियों के साथ इस तरह की घटना सबके मन में क्रोध पैदा करती है और घटना के दोषियों को बिल्कुल भी नहीं बख्शा जाएगा।’’ 

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 27-09-2022 at 12:54:00 pm
अपडेट