scorecardresearch

Ankita Murder Case: पौड़ी में गुस्साई भीड़ ने रिजार्ट के पीछे बने आरोपी के दवा कारखाने को किया आग के हवाले

पौड़ी के यमकेश्वर ब्लाक स्थित रिजार्ट की महिला कर्मी की हत्या के कारण उत्तराखंड की जनता में गहरा रोष है। शनिवार को आक्रोशित लोगों ने रिजार्ट के पीछे बने आरोपी पुलकित आर्य के पिता भाजपा नेता विनोद आर्य के दवा के कारखाने को आग के हवाले कर दिया। इसके अलावा प्रशासन के आदेश के बाद रिजार्ट को भी बुलडोजर की मदद से तोड़ दिया गया है।

Ankita Murder Case: पौड़ी में गुस्साई भीड़ ने रिजार्ट के पीछे बने आरोपी के दवा कारखाने को किया आग के हवाले
गुस्साए स्थानीय लोगों ने रिजॉर्ट में लगाई (फोटो सोर्स: पीटीआई)

मामले के सुर्खियों में आने के बाद भाजपा ने कार्रवाई करते हुए विनोद आर्य और उनके दूसरे बेटे अंकित आर्य को पार्टी से निलंबित कर दिया। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के आदेश पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने यह कदम उठाया। मुख्यमंत्री ने कहा कि हत्याकांड में शामिल किसी भी शख्स को बख्सा नहीं जाएगा। मामले की जांच के लिए विशेष जांच दल का गठन कर दिया गया है। पुलिस ने अंकिता के शव का पोस्टर्माटम करा कर देर शाम उसके पैतृक गांव भेज दिया। पुलिस ने पुलकित आर्य, सौरभ भास्कर और अंकित गुप्ता को 14 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।

शुक्रवार देर रात जिला पौड़ी प्रशासन ने पुलकित आर्य के अवैध रूप से बने रिजार्ट को बुलडोजर से तोड़ने का काम शुरू किया। घटना से आक्रोशित भीड़ ने पुलकित के रिजार्ट के पीछे बने स्वदेशी आयुर्वेदिक दवा काखाने में आग लगा दी। स्थानीय लोगों का कहना है कि पुलकित के पिता ने औद्योगिक कोटे से फार्मेसी की जमीन हासिल की थी।

जमीन के कुछ हिस्से पर नाम मात्र को ही फार्मेसी का काम होता था। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, रिजार्ट कर्मी ने हाल ही में पुलकित आर्य के रिजार्ट में रिसेप्शनिस्ट की नौकरी शुरू की थी। उत्तराखंड के पुलिस प्रमुख ने बताया कि रिजार्ट का मालिक अतिथियों को विशेष सेवा प्रदान करने के लिए लड़की पर दबाव डाल रहा था।

पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने कहा कि इस लड़की द्वारा अपने एक मित्र के साथ की गई चैट से यह जानकारी सामने आई है। इससे पहले रिसेप्शनिस्ट के एक फेसबुक मित्र ने कथित रूप से कहा कि उसकी दोस्त की हत्या इसलिए कर दी गई क्योंकि उसने मालिक का दबाव मानने से इनकार कर दिया। इस मित्र के अनुसार वह जिस रिजार्ट में काम करती थी, उसके मालिक ने उससे ऐसा करने को कहा था।

रिसेप्शनिस्ट को रिजार्ट के मालिक एवं उसके दो अन्य कर्मचारियों ने कथित रूप से मार डाला। यह रिजार्ट भाजपा के एक नेता के बेटे का है। लड़की का शव मिलने से पहले उसके अभिभावकों ने शिकायत दर्ज कराई थी कि वह सोमवार से से लापता है।

लड़की के (फेसबुक) मित्र ने कथित रूप से कहा कि जिस रात को उसकी मित्र हत्या की गई थी, उसी रात को उसने फोनकर बताया था कि वह मुसीबत में है। खबरों के अनुसार पीड़िता ने अपने मित्र से कहा था कि रिजार्ट के मालिक और प्रबंधक उसपर रिजार्ट में आने वाले अतिथियों के साथ संबंध बनाने के लिए दबाव डाल रहे थे। फेसबुक मित्र के अनुसार रात साढ़े आठ बजे रिसेप्शनिस्ट से संपर्क नहीं हो रहा था।

उसके अनुसार जब बार-बार कोशिश करने के बाद भी उससे संपर्क नहीं हो पाया तब उसने रिजार्ट के मालिक पुलकित आर्य को फोन किया जिसने उससे कहा कि वह सोने के लिए अपने कमरे में चली गई है। फेसबुक मित्र के मुताबिक अगले दिन जब उसने कथित रूप से फिर आर्य को फोन किया तब भी उसका फोन बंद था।

तब उसने रिजार्ट के प्रबंधक अंकित को फोन किया जिसने कहा कि वह जिम में है। फेसबुक मित्र के अनुसार तब उसने रिजार्ट के रसोइया से बातचीत की जिसने उससे कहा कि उसने उस दिन लड़की को नहीं देखा है।

घटना से आक्रोशित लोगों ने भाजपा विधायक रेनू बिष्ट को ऋषिकेश एम्स में नहीं घुसने दिया। गुस्साई भीड़ उनकी गाड़ी में तोड़फोड़ की। बाद में पुलिस ने उन्हें सुरक्षा घेरे में बाहर निकाला और वह परिजनों से मिले बिना ही वापस लौट गई।

जिला मुख्यालयों पर कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

घटना के विरोध में उत्तराखंड के सभी जिला मुख्यालयों में कांग्रेस ने अंकिता कांड के खिलाफ प्रदर्शन किया और इस कांड के लिए भाजपा को दोषी ठहराया। उन्होंने इस हत्याकांड की जांच सीबीआइ से कराने की मांग की कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री संजय पालीवाल ने कहा कि हत्यारों को बचाने की भाजपा नेताओं ने पूरी कोशिश की परंतु जनता की जागरूकता के कारण यह मामला प्रकाश में आया।

उन्होंने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं रह गई है। अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने कहा कि उत्तराखंड में भाजपा सरकार का नारा बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ अब भाजपा भगाओ, बेटी बचाओ के नारे के रूप में तब्दील हो गया है। भाजपा के राज में बेटियां सुरक्षित नहीं है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 25-09-2022 at 08:45:00 am