बस पर सीएम का फटा पोस्टर देख भड़क गए एमएलए, खीझ में युवक को जड़ा थप्पड़!

जिस युवक को विधायक ने थप्पड़ मारा, वह वाईएसआरसीपी का कार्यकर्ता था। इस पर मौके पर भीड़ जमा हो गई और वहां मौजूद लोग विधायक की गिरफ्तारी की मांग करने लगे।

andhra pradesh
तेदेपा विधायक चिंतामनेनी प्रभाकर। (image source-Twitter/the news minute)

आंध्र प्रदेश की तेलगुदेशम पार्टी के विधायक चिंतामनेनी प्रभाकर सीएम चंद्रबाबू नायडू का एक बस पर लगा पोस्टर फटा होने से इतने नाराज हो गए कि उन्होंने एक युवक को थप्पड़ जड़ दिया। विधायक द्वारा जिस युवक को थप्पड़ मारा गया, वह तेदेपा की विरोधी पार्टी वाईएसआरसीपी का कार्यकर्ता था। जिससे मामला बढ़ गया, लेकिन पुलिस ने तुरंत मौके पर पहुंचकर स्थिति को बिगड़ने से बचा लिया।

खबर के अनुसार, तेदेपा के विधायक चिंतामनेनी प्रभाकर हनुमान जंक्शन इलाके से गुजर रहे थे। हनुमान जंक्शन इलाका कृष्णा और वेस्ट गोदावरी नदी के बॉर्डर पर पड़ने वाला इलाका है। तभी विधायक ने देखा कि एक आरटीसी की बस, जिस पर तेदेपा अध्यक्ष और सीएम चंद्रबाबू नायडू का फटा हुआ पोस्टर लगा था। इसी बात पर विधायक इतना नाराज हुए कि वह बस के ड्राइवर से उलझ गए। जब विधायक बस के ड्राइवर से बहस कर रहे थे, तभी वहां से हनुमान जंक्शन की कापू जाति का एक युवक वहां से गुजर रहा था। युवक ने विधायक और बस ड्राइवर के बीच-बचाव की कोशिश की। इस पर विधायक ने उस युवक को ही थप्पड़ जड़ दिया। जिस युवक को विधायक ने थप्पड़ मारा, वह वाईएसआरसीपी का कार्यकर्ता था। इस पर मौके पर भीड़ जमा हो गई और वहां मौजूद लोग विधायक की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। किसी तरह पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाला।

चिंतामनेनी प्रभाकर पश्चिमा गोदावरी के जिले देदुलुरु से विधायक हैं। बता दें कि यह कोई पहला वाक्या नहीं है, जब तेदेपा के विधायक चिंतामनेनी प्रभाकर विवादों में आए हैं। इससे पहले विधायक चिंतामणि साल 2011 में पूर्व मंत्री वत्ती वसंत कुमार का शोषण करने के आरोपों में जेल जा चुके हैं। इस मामले में विधायक को अदालत ने 2 साल की सजा और 1000 रुपए का जुर्माना लगाया था। इसी साल फरवरी में चिंतामनेनी प्रभाकर जमानत पर रिहा हुए हैं। इसके अलावा विधायक चिंतामनेनी प्रभाकर एक पुलिसकर्मी के साथ मारपीट करने के भी आरोपी हैं। बता दें कि आंध्र प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। जिनमें तेदेपा को वाईएसआरसीपी से कड़ी टक्कर मिलने की उम्मीद है। हालांकि संसद में दोनों विरोधी पार्टियां केन्द्र सरकार के खिलाफ एकजुट दिखाई दे रही हैं।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X