ताज़ा खबर
 

Bihar Elections 2020: आजादी का सुख नहीं मिला आज तक…1908 में जन्मे बुजुर्ग ने बयां किया दर्द

बिहार में चुनावी सरगर्मियों के बीच जहां एक तरफ नेता जनता से बड़े-बड़े वादे कर रहे हैं, वहीं जमीन पर हालात में बदलाव पर भी नजर रखी जा रही है।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र पटना | Updated: October 31, 2020 11:51 AM
Bihar Election 2020, Nalandaबिहार के नालंदा के रहने वाले बुजुर्ग ने बताया कि उनका जन्म 1908 में हुआ था। (फोटो- स्क्रीनग्रैब)

बिहार में पहले चरण का मतदान पूरा होने के बाद राजनीतिक दल अब दूसरे और तीसरे चरण की तैयारियों में जुट गए हैं। केंद्र के साथ-साथ राज्य के कई नेता ताबड़तोड़ रैलियां कर समर्थन जुटाने में लगे हैं। इस दौरान जहां सत्तासीन एनडीए गठबंधन पिछले 15 साल के विकास के दावों के आधार पर वोट मांग रहा है, वहीं विपक्षी महागठबंधन आगे रोजगार और अन्य सुविधाएं देने का वादा कर रहा है। हालांकि, पार्टियों के इन वादों का आम लोगों पर कितना असर पड़ा है, इसका ब्योरा मिलता है सौ से ज्यादा की उम्र के बुजुर्ग से, जिनका कहना है कि उन्हें देश में आजादी के बावजूद इसका सुख नहीं मिल पाया है।

एक टीवी चैनल ने जब बिहार के नालंदा में 1908 में जन्मे बुजुर्ग से बात की, तो वृद्ध का दर्द छलक उठा। कांपते हाथों से एक लाठी के सहारे खड़े बुजुर्ग ने एंकर से कहा कि हम उस समय के आदमी हैं, जब रेल लाइन बिछाने के दौरान अंग्रेज मार देता था, जब स्टेशन में आग लगा दी जाती थी। जब बुजुर्ग से पूछा गया कि सरकार ने क्या किया, तो बुजुर्ग ने कहा कि आज भी यहां सब ऐसा ही है। आजादी का सुख नहीं है। बुजुर्ग ने कहा कि घर तक नहीं बना है। आजादी का सुख हम जान ही नहीं पाए।

बुजुर्ग के इस वायरल वीडियो पर सोशल मीडिया पर भी हलचल मच गई। एक ट्विटर यूजर @MohitMi62 ने लिखा, “सही है नहीं मिला। बिहार आज भी 15वीं शताब्दी में है। सिर्फ राजनेता जिम्मेदार नहीं हैं।” एक और यूजर संजीव कुमार झा ने कहा, “बताएं नीतीश जी आजादी के 60-65 साल बाद भी क्या हाल है बिहार का। इससे शर्म की बात क्या होगी बिहार सरकार के लिए। ये है नालंदा बिहार।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 आरसीपी सिंह पर 1996 में पड़ी नीतीश कुमार की नजर, एक जगह और जाति के निकले, पहले सरकार और फिर जदयू में बढ़ता गया कद
2 बाल-बाल बचे भाजपा MP मनोज तिवारी, हेलिकॉप्टर का 40 मिनट तक कटा रहा एयरपोर्ट से संपर्क, करानी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंग
3 बिहार चुनावः नीतीश के मंच से बोले भाजपा विधायक-मैं पार्टी के चक्रव्यूह में फंसा, नित्यानंद और भूपेंद्र यादव जैसे लोगों का बचाव करना पड़ा रहा
ये पढ़ा क्या?
X