ताज़ा खबर
 

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में पोस्‍टर, वीसी को ढूंढ़ने पर मिलेगा इतना इनाम

यूनिवर्सिटी के चांसलर तारिक मंसूर की इस पूरे मसले पर चुप्पी चर्चा का विषय बनी हुई है। छात्रों का कहना है कि वाइस चांसलर धरना स्थल पर भी अभी तक नहीं पहुंचे हैं।

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी। (express photo by gajendra yadav)

मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर को लेकर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में हंगामा हो रहा है। इसी बीच अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्रों ने जगह-जगह वाइस चांसलर के गायब होने के पोस्टर लगा दिए हैं। इतना ही नहीं इन पोस्टरों में वाइस चांसलर को ढूंढकर धरना स्थल पर लाने वाले व्यक्ति को 51 रुपए का नगद इनाम भी देने का ऐलान किया गया है। बता दें कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर हटाने की मांग पर पिछले कई दिनों से हंगामा चल रहा है। यूनिवर्सिटी के छात्र पिछले कई दिनों से धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं यूनिवर्सिटी के चांसलर तारिक मंसूर की इस पूरे मसले पर चुप्पी चर्चा का विषय बनी हुई है। छात्रों का कहना है कि वाइस चांसलर धरना स्थल पर भी अभी तक नहीं पहुंचे हैं। यही वजह है कि अब छात्रों ने वाइस चांसलर के लापता होने के पोस्टर जगह-जगह लगा दिए हैं।

वहीं दूसरी तरफ अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के चांसलर तारिक मंसूर ने छात्रों के आरोपों को बेबुनियाद बताया है। चांसलर का कहना है कि वह धरना स्थल भी गए थे और लाठीचार्ज में घायल छात्रों को देखने के लिए अस्पताल भी गए थे। वाइस चांसलर धरना स्थलों पर भाषण नहीं देते हैं। मैंने उत्तर प्रदेश सरकार को पत्र लिखकर इस पूरे विवाद की न्यायिक जांच की मांग की है। छात्र संगठन के पूर्व अध्यक्ष फैजुल हसन का कहना है कि विधायक, पूर्व विधायक, पूर्व छात्र और अध्यापक संगठन आदि के लोग धरना स्थल पर हमारा समर्थन करने पहुंचे हैं, लेकिन वाइस चांसलर ने अभी तक इस पूरे मसले पर एक शब्द भी नहीं कहा है।

छात्रों का कहना है कि कमेटी बनाने, आधिकारिक मेल भेजने और घटना की निंदा करना ही काफी नहीं है। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी मेडिकल कॉलेज के रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन अध्यक्ष अब्दुल्ला अजीम का कहना है कि वाइस चांसलर हमारे अभिभावक हैं और उन्हें छात्रों के सामने अपना पक्ष साफ करना चाहिए, लेकिन आश्चर्यजनक तौर पर वह कहीं दिखाई नहीं दे रहे हैं। बता दें कि स्थानीय सांसद और हिंदू युवा वाहिनी के लोग एएमयू में लगी मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर का विरोध कर रहे हैं। बीते हफ्तें इस मुद्दे को लेकर एएमयू के छात्रों और पुलिस के बीच झड़प भी हुई थी, जिसमें कई छात्र घायल हो गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App