ताज़ा खबर
 

केरल में अमित शाह मंगलवार से शुरू करेंगे 15 दिवसीय ‘जन सुरक्षा पदयात्रा’, शामिल होंगे कई दिग्गज नेता

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह केरल में भाजपा एवं आरएसएस कार्यकर्ताओं की हत्याओं के खिलाफ माकपा नीत सरकार को घेरने की कवायद के तहत मंगलवार से 15 दिवसीय ‘जन सुरक्षा पदयात्रा’ की शुरूआत करेंगे।

Author नई दिल्ली | October 2, 2017 6:59 PM
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की फाइल फोटो।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह केरल में भाजपा एवं आरएसएस कार्यकर्ताओं की हत्याओं के खिलाफ माकपा नीत सरकार को घेरने की कवायद के तहत मंगलवार से 15 दिवसीय ‘जन सुरक्षा पदयात्रा’ की शुरूआत करेंगे। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने इसकी घोषणा करते हुए आरोप लगाया कि माकपा हत्या की राजनीति कर रही है। उन्होंने दावा किया कि भाजपा की बढ़ती लोकप्रियता के कारण वाम पार्टी हताश हो गई है और उसने हमारे कार्यकर्ताओं के खिलाफ सरकार प्रायोजित हिंसा शुरू कर दी है।

केरल की वामपंथी सरकार के खिलाफ भाजपा की “जनसुरक्षा यात्रा” की शुरूआत मंगलवार से अमित शाह कर रहे हैं जो केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के गृह नगर पयान्नूर से शुरू होगी और 15 दिनों बाद 17 अक्तूबर को तिरूवनंतपुरम में समाप्त होगी। इस यात्रा में शाह के अलावा भाजपा के वरिष्ठ नेता भी शामिल होंगे। जवाडेकर ने कहा कि राज्य सरकार ने केरल में हिंसा का तांडव चला रखा है। इस तांडव के खिलाफ बीजेपी पदयात्रा कल से शुरू होगी और 17 अक्तूबर तक चलेगी।

इस यात्रा में स्मृति ईरानी,गिरिराज सिंह, धर्मेंद्र प्रधान, अनंत कुमार और राजवर्धन सिंह राठौर, वीके सिंह और अन्य मंत्री अलग अलग दिन शामिल होंगे। जावेड़कर ने दावा किया कि कि केरल में अभी तक 120 लोगों की हत्या हो चुकी है। खुद मुख्यमंत्री के क्षेत्र में 84 हत्याएं हुई हैं। केरल में जिस तरह से भाजपा और आरआरएस के कार्यकर्ताओं की हत्या की जा रही है। उससे साफ समझा जा सकता है कि माकपा केरल में माओवादी बन गई है। इसीलिए इस यात्रा को भाजपा ने जनसुरक्षा यात्रा नाम दिया गया है।

उन्होंने कहा कि केरल में भाजपा का वोट प्रतिशत लगातार बढ़ रहा है और यही वजह है कि राज्य सरकार बौखला गई है। लेकिन हमलोग डरेंगे नहीं। हमें व्यापक जन समर्थन मिल रहा है। आज महात्मा गांधी की जयंती है और हम वामपंथी हिंसा के खिलाफ लोकतांत्रिक ढंग से विरोध करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App