ताज़ा खबर
 

अमित शाह ने BJP को चेताया, कहा- पानीपत की लड़ाई जैसे हैं लोकसभा चुनाव, हारे तो करनी पड़ेगी गुलामी

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार रात अपनी पार्टी से कहा, ‘‘2019 के लोकसभा चुनाव निर्णायक प्रतियोगिता साबित होंगे। इन्हें पानीपत की तीसरी लड़ाई की तरह देखा जा सकता है, जिसके बाद मराठों को 200 साल की गुलामी करनी पड़ी थी।’’

Author January 12, 2019 11:38 AM
नई दिल्ली में शुक्रवार रात शुरू हुआ बीजेपी का दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन। फोटो सोर्स : इंडियन एक्सप्रेस

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार रात अपनी पार्टी से कहा, ‘‘2019 के लोकसभा चुनाव निर्णायक प्रतियोगिता साबित होंगे। इन्हें पानीपत की तीसरी लड़ाई की तरह देखा जा सकता है, जिसके बाद मराठों को 200 साल की गुलामी करनी पड़ी थी।’’ शाह ने यह बात नई दिल्ली में बीजेपी के राष्ट्रीय अधिवेशन के उद्घाटन के दौरान कही।

अधिवेशन में चुनाव की तैयारी का जिक्र : इस अधिवेशन में बीजेपी के जिलास्तर तक के नेताओं को लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पार्टी के अभियान की जानकारी दी जाएगी। इस दौरान शाह ने मोदी सरकार के कार्यकाल में उठाए गए महत्वपूर्ण कदमों की जानकारी दी।

राम मंदिर पर भी बोले शाह : अमित शाह ने कहा, ‘‘बीजेपी हर मौके पर राम मंदिर बनाना चाहती है। मंदिर बनाना हमारा कर्तव्य है और इसके लिए हम आज भी प्रतिबद्ध हैं। कांग्रेस लगातार मंदिर बनाने की राह में रोड़ा अटका रही है। हम सुप्रीम कोर्ट में लंबित मामले को जल्द से जल्द निपटाने की लगातार कोशिश कर रहे हैं।’’

शाह बोले- मोदीजी ने लिए ऐतिहासिक फैसले : शाह ने अपने एक घंटे के भाषण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आर्थिक रूप से पिछड़े सवर्णों और छोटे व्यापारियों के लिए उठाए गए ‘ऐतिहासिक’ कदमों की सराहना की। उन्होंने कहा, ‘‘मोदी जी ने महज एक सप्ताह में दो ऐतिहासिक फैसले लिए। आरक्षण बिल की मांग कई साल से हो रही थी। उन्होंने आर्थिक रूप से पिछड़े सवर्णों को शिक्षा और सरकारी नौकरियों में 10 प्रतिशत आरक्षण देने का बिल संसद में पास कराया।’’

दिखावा है प्रस्तावित महागठबंधन : शाह ने आगामी लोकसभा चुनाव को विचारधारा की जंग करार दिया। उन्होंने कहा कि प्रस्तावित विपक्षी महागठबंधन महज दिखावा है। उन्होंने दावा किया, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हटाना नामुमकिन है। मैं मोदी जी को 1987 से जानता हूं और उनके नेतृत्व में हम एक भी चुनाव नहीं हारे।’’


ये लोकसभा चुनाव नहीं, पानीपत की जंग : शाह ने आगामी लोकसभा चुनाव को पानीपत की लड़ाई जैसा बताया। उन्होंने कहा, ‘‘कुछ जंग सीमित वक्त के लिए होती हैं, लेकिन कुछ अपना युग तय करती हैं। 131 जंग हारने के बाद अहमद शाह अब्दाली ने पानीपत की तीसरी लड़ाई में मराठों को मात दी थी। इसके बाद 200 साल की गुलामी और उपनिवेशवाद का दौर शुरू हो गया। मुझे विश्वास है कि 2019 के लोकसभा चुनाव भी ऐसे ही साबित होंगे। पार्टी को 2019 में नरेंद्र मोदी सरकार की जीत सुनिश्चित करनी चाहिए, जिससे यह लड़ाई निर्णायक होगी।’’

हमें मजबूत सरकार चाहिए, मजबूर सरकार नहीं : अधिवेशन के उद्घाटन के दौरान मंच पर पीएम नरेंद्र मोदी, राजनाथ सिंह, अरुण जेटली, नितिन गडकरी समेत दिग्गज नेता एलके आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और कई पूर्व मुख्यमंत्री मौजूद थे। इस दौरान अमित शाह ने कहा, ‘‘बीजेपी मजबूत सरकार चाहती है, जबकि विपक्षी मजबूर सरकार बनाना चाहते हैं। मोदी के अलावा कोई भी मजबूत सरकार नहीं दे सकता।’’

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App