ताज़ा खबर
 

पटना के एनएमसीएच में दो दिन से कोरोना वार्ड में पड़े हैं डेडबॉडी, तेजस्वी यादव ने शेयर किया वीडियो

बिहार में विपक्ष लगातार बद्तर स्वास्थ्य सेवाओं का मुद्दा उठाता रहा है, तेजस्वी यादव का आरोप है कि नीतीश सरकार कोरोना मरीजों को छोड़कर विधानसभा चुनाव पर ध्यान लगाए हुए है।

Bihar, Patna, NMCH, Coronavirusतेजस्वी यादव ने वीडियो को बिहार के पटना स्थित एनएमसीएच का बताया है। (एक्सप्रेस फोटो)

देश में कोरोनावायरस के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। बिहार के हालात भी लगातार बद्तर हो रहे हैं। इस बीच बिहार में स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली पर विपक्ष लगातार डर जताता रहा है। विपक्ष का कहना रहा है कि अगर बिहार में कोरोना के केसों का विस्फोट हुआ, तो नीतीश सरकार के लिए इसे संभालना बेहद मुश्किल हो जाएगा। राजद नेता तेजस्वी यादव ने बिहार की बदहाल व्यवस्था दिखाता एक कथित वीडियो ट्विटर पर पोस्ट किया है। इसमें अस्पताल के बेड पर मृत मरीज का शव रखा दिखाया गया है। तेजस्वी का दावा है कि वीडियो पटना के एनएमसीएच का है और जो शव वीडियो में दिखाया गया है, वह दो दिन से कोरोना वॉर्ड के उसी बिस्तर पर पड़ा है।

तेजस्वी ने ट्वीट में कहा, “बिहार की भयावह स्थिति देखिए। कोरोना वार्ड में 2 दिन से मृत मरीज़ों के शव रखे है। स्वस्थ मरीज़ बगल वाले बेड पर लेटे है। कोई डॉक्टर, नर्स और कर्मी नहीं है। परिजन देखभाल कर रहे हैं।” तेजस्वी ने ट्वीट में ही आगे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भी निशाना साधा है। उन्होंने दावा किया कि मुख्यमंत्री आवास में 60 लोगो कोरोना से संक्रमित मिले हैं। इसलिए सभी डॉक्टर, नर्स और वेंटिलेटर वहां भेज दिए गए हैं।

तेजस्वी यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि बिहार सरकार राज्य में विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुटी है, जबकि आने वाले दिनों में कोरोना से पैदा हुई स्थिति और गंभीर होने वाली है। आखिर में तेजस्वी ने लोगों से खुद ही अपना ख्याल रखने की सलाह दी और बिहार सरकार पर भरोसा न करने की बात कही।

गौरतलब है कि बिहार में अब तक राज्य में कोरोना के 13 हजार से ज्यादा केस आ चुके हैं, वहीं 100 लोगों की जान भी जा चुकी है। राज्य में अभी 3633 एक्टिव केस हैं, जबकि 9541 मरीज ठीक हो कर घर लौट चुके हैं। फिलहाल बिहार में सबसे ज्यादा केस राजधानी पटना में हैं। यहां 1351 केस हैं, वहीं भागलपुर में भी 693 मरीज मिल चुके हैं। इसके अलावा बेगूसराय, मधुबनी, सीवान और मुजफ्फरपुर में 500-500 केस सामने आ चुके हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 फुटपाथ पर रहकर मैट्रिक में फर्स्ट क्लास से पास करने पर मजदूर की बेटी को नगर निगम ने दिया फ्लैट, बोली- ‘अब IAS बनने का है सपना’
2 दो दिन में विकास दुबे के तीन साथी ढेर, प्रभात मिश्रा ने फिल्मी स्टाइल में पुलिसवालों पर बोला था हमला, तीसरा साथी बहुआ दुबे भी एनकाउंटर में ढेर
3 जिस जिले में पीएम मोदी ने लॉन्च किया रोजगार योजना, वहीं मजदूरों को नहीं मिल पा रहा भरपूर काम और मेहनताना
ये पढ़ा क्या?
X