ताज़ा खबर
 

Amazon पर बिक रहे स्वर्ण मंदिर की तस्वीर वाले पायदान-कालीन और टॉयलेट सीट, भड़के सिख संगठन

स्वर्ण मंदिर की तस्वीर वाली पायदान और कालीन ई कॉमर्स वेबसाइट अमेजन पर कथित तौर पर बेचे जाने को लेकर एक प्रमुख सिख संगठन ने आपत्ति दर्ज की है और सांस्कृतिक रूप से अनुचित और अपमानजनक उत्पाद हटाने की मांग की है।

Author न्यूयॉर्क | December 20, 2018 10:15 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर

स्वर्ण मंदिर की तस्वीर वाली पायदान और कालीन ई कॉमर्स वेबसाइट अमेजन पर कथित तौर पर बेचे जाने को लेकर एक प्रमुख सिख संगठन ने आपत्ति दर्ज की है और सांस्कृतिक रूप से अनुचित और अपमानजनक उत्पाद हटाने की मांग की है। सिख कोएलिशन ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि उन्हें सूचना मिली है कि कुछ विक्रेता अमेजन पर स्वर्ण मंदिर की तस्वीर के साथ पायदान, कालीन और टॉयलेट सीट कवर बेच रहे हैं। सिख कोएलिशन के सिम सिंह ने अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस एवं वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं जनरल काउंसल डेविड जेपोल्सकी को इस संबंध में एक पत्र लिखा है।

पत्र में उन्होंने कहा है, ‘‘ हमें पता चला है कि कई विक्रेता आपके प्लेटफॉर्म पर ऐसी उत्पाद पोस्ट डाल रहे हैं जिन पर स्वर्ण मंदिर की और पूरब की संस्कृति की आध्यात्मिक छवियां हैं। सिंह ने कहा कि अशुद्ध एवं गंदे वस्तुओं के संपर्क में आने वाले उत्पादों पर धार्मिक एवं आध्यत्मिक तस्वीरों का इस्तेमाल करना पूरब से शुरू हुए सभी धर्मों के लिए अपमानजनक है और स्वर्ण मंदिर भी इससे अलग नहीं है। स्वर्ण मंदिर की तस्वीर कभी भी पायदान, कालीन या टॉयलेट सीट कवर पर नहीं होनी चाहिए।

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने एक ऑनलाइन रिटेल वेबसाइट पर एक कंपनी द्वारा स्वर्ण मंदिर की तस्वीर के साथ टॉयलेट सीट कवर की कथित बिक्री की बुधवार को कड़ी निंदा की और ऐसा करने वाली कंपनी से माफी मांगने को कहा। वह अमेरिका में एक सिख संगठन के दावे का जिक्र कर रहे थे कि जिसमें अमेजन पर कुछ विक्रेताओं द्वारा स्वर्ण मंदिर की तस्वीर वाले पायदान, गलीचे और टॉयलेट सीट कवर बेचने की बात कही गई है।

सिख कोलिशन ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि अमेजन पर कुछ विक्रेता ऐतिहासिक रूप से सबसे महत्वपूर्ण सिख स्थल स्वर्ण मंदिर की छवि का पायदान, गलीचा और शौचालय सीट कवर बेच रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे पूरे सिख समुदाय की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है।  उन्होंने ट्वीट किया कि फिलीफोम यूनिवर्सल द्वारा इस तरह का प्रयास अत्यंत निदंनीय है। इससे दुनियाभर में सिख समुदाय की भावनाएं आहत हुई हैं। उन्होंने ट्वीट करके कंपनी द्वारा इस तरह के उत्पाद तत्काल हटाने और माफी मांगने की मांग की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App