ताज़ा खबर
 

सिद्धू बोले- अमरिंदर मेरे पिता समान, खुद सुलझा लूंगा मुद्दा

कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने सोमवार को यहां कैप्टन अमरिंदर सिंह को 'पिता तुल्य' बताया और कहा कि वह उनके साथ जो भी मुद्दे हैं, उसे सुलझा लेंगे।

झालाबाढ़ | Updated: December 3, 2018 6:10 PM
पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू। Express Photo by Kamleshwar Singh

कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने सोमवार को यहां कैप्टन अमरिंदर सिंह को ‘पिता तुल्य’ बताया और कहा कि वह उनके साथ जो भी मुद्दे हैं, उसे सुलझा लेंगे। कुछ दिन पहले सिद्धू ने कहा था कि उनके कैप्टन मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह नहीं, बल्कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी हैं।
संवाददाताओं ने सिद्धू से पूछा कि क्या वह अमरिंदर सिंह से माफी मांगेंगे? उन्होंने कहा, “आप गंदे कपड़े सबके सामने नहीं धोते। वह (कैप्टन अमरिंदर सिंह) एक पिता समान हैं। मैं उनसे प्यार करता हूं। मैं उनका सम्मान करता हूं। मैं खुद से इसे सुलझा लूंगा।”

यह विवाद तब पैदा हुआ, जब सिद्धू ने हैदराबाद में कहा कि उनके कैप्टन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी है, और अमरिंदर सिंह सेना के एक कैप्टन रहे हैं। उन्होंने यह टिप्पणी करतरपुर गलियारे के लिए पाकिस्तान में हुए शानदार समारोह में हिस्सा लेकर लौटने के एक दिन बाद की थी। सिद्धू की इस टिप्पणी के बाद पंजाब के कई मंत्रियों ने पंजाब सरकार से उनकी बर्खास्तगी की मांग की और उन्हें मुख्यमंत्री से माफी मांगने के लिए कहा।

इससे पहले उन्होंने सिद्धू ने यहां एक प्रेसवार्ता में पूछे गए प्रश्न का जवाब देते हुए कहा था, “मेरे कैप्टन राहुल गांधी हैं। उन्होंने जहां जरूरत लगी, मुझे हर जगह भेजा। जब यह पूछा गया कि उन्होंने पाकिस्तान जाने के लेकर अपने कैप्टन की सलाह अनसुनी क्यों की, तब उन्होंने कहा, “आप किस कैप्टन की बात कर रहे हैं। ओह. कैप्टन अमरिंदर सिंह। वे आर्मी कैप्टन हैं। मेरे कैप्टन राहुल गांधी हैं। कैप्टन के कैप्टन भी राहुल गांधी हैं।”

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने आयोजन में भाग लेने के पाकिस्तान के निमंत्रण को अस्वीकार कर दिया था और कहा था कि वह भारत में आतंकवाद को समर्थन जारी रख रहा है। कहा जाता है कि वे सिद्धू के वहां जाने से भी खुश नहीं थे।

Next Stories
1 अयोध्‍या: बाबरी मस्जिद विध्‍वंस की बरसी पर ‘शौर्य दिवस’ मनाएगा VHP, ‘गीता जयंती’ मनाने की भी तैयारी
2 Rajasthan Election: 30 साल से BJP का मजबूत गढ़ है हाड़ौती, इन कारणों से हिल सकता है किला
3 Rajasthan Election: BJP के गढ़ हाड़ौती में सेंधमारी की कोशिश में कांग्रेस, संघ संभाल सकता है मोर्चा
ये पढ़ा क्या ?
X