ताज़ा खबर
 

Gujarat: 2017 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का कद बढ़ाने वाले यह नेता नाराज, BJP में हो सकते हैं शामिल

ओबीसी नेता और गुजरात के कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर का कहना है कि उनके समुदाय के लोग ठगा हुआ और उपेक्षित महसूस कर रहे हैं।

अल्पेश ठाकोर, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

ओबीसी नेता और गुजरात के कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर का कहना है कि उनके समुदाय के लोग ठगा हुआ और उपेक्षित महसूस कर रहे हैं। दरअसल लोक सभा चुनाव करीब हैं और ऐसे में उनके इस बयान को चुनाव की तैयारी में जुटी प्रदेश सरकार पर हमले के तौर पर देखा जा रहा है। गौरतलब है कि अल्पेश ने बिना किसी का नाम लिए ये हमला किया।0

क्या बोले अल्पेश: ओबीसी नेता और गुजरात के कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर ने बिना किसी का नाम लिए कहा कि गुजरात में पार्टी मामलों की कमान कुछ कमजोर नेताओं के पास है। उन्होंने परोक्ष रूप से पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अमित चावड़ा का हवाला दिया। इसके साथ ही ठाकोर ने खुली चुनौती देते हुए कहा कि अब वो समझदार व्यक्ति की तरह राजनीति करेंगे क्योंकि गुजरात के पार्टी के कुछ नेता उनको और ठाकोर समुदाय को दबाने का प्रयास कर रहे हैं।

कांग्रेस से खुश नहीं अल्पेश: बता दें कि ठाकोर ने कहा कि मुझे लगता है कि मेरे समुदाय की उपेक्षा की जा रही है। पार्टी में मेरे समुदाय को उचित प्रतिनिधित्व नहीं मिल रहा। राज्य में घटित होने वाली हर बुरी चीज के लिए हमे ही दोषी ठहराया जा रहा है। इसके साथ ही अल्पेश ने ये भी कहा कि अगर मेरे लोगों को कुछ नहीं मिला तो मैं चुप नहीं बैठने वाला या विधायक पद पर नहीं बना रहूंगा।

भाजपा में हो सकते हैं शामिल: एक तरफ जहां कांग्रेस के वरिष्ट नेता भरतसिंह सोलंकी ने ठाकोर पर कोई रिएक्शन नहीं दिया तो वहीं दूसरी ओर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री और भाजपा नेता नितिन पटेल ने कहा कि मुख्य विपक्षी पार्टी जल्द ही कई धड़ों में टूट जाएगी। वहीं अगर ऐसे में वो भाजपा में शामिल होना चाहते हैं तो तहे दिल से उनका स्वागत है।

 

ठाकोर की भूमिका: बता दें कि गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले ठाकोर ने कांग्रेस से हाथ मिलाया था और पार्टी के टिकट से जीत हासिल कर विधायक बने थे। राज्य में 182 सीटों वाली भाजपा को 99 सीटों पर लाने में हार्दिक पटेल औऱ जिग्नेश मेवाणी के साथ ही अल्पेश ठाकोर का भी बड़ा हाथ था। हालांकि पिछले कुछ दिनों से पार्टी और उनके बीच सब ठीक नहीं चल रहा। राष्ट्रीय सचिव का पद मिलने से नाखुश अल्पेश कांग्रेस विधानमंडल दल का नेता या फिर पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष का पद चाहते थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App