ताज़ा खबर
 

ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के सचिव ने मनोहर पर्रिकर को बताया भगोड़ा और देशद्रोही

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर द्वारा रक्षामंत्री का पद छोड़कर वापस गोवा लौटने को लेकर विपक्षी पार्टियों ने उनको भगोड़ा और देशद्रोही कह डाला।

Author नई दिल्ली | Updated: April 15, 2017 10:30 PM
गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर (फाइल)

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर द्वारा रक्षामंत्री का पद छोड़कर वापस गोवा लौटने को लेकर विपक्षी पार्टियों ने उनको भगोड़ा और देशद्रोही कह डाला। जी हां, मनोहर पर्रिकर के लिए ऐसी विवादित बातें ऑल इंडिया कांग्रेस कमिटी के सचिव गिरीश चोडंकर ने कहीं। चोंडकर ने कहा कि मनोहर पर्रिकर ने रक्षा मंत्री रहते हुए पाकिस्तान से सिर्फ एक ही चीज सीखी, घात लगाकर हमला करना। कांग्रेस ने गोवा में पिछले महीने हुए विधानसभा चुनाव में दूसरे नंबर पर रहने के बावजूद भाजपा द्वारा सत्ता हथियाने के संदर्भ में यह आरोप लगाया।

चोडंकर ने यहां पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों से कहा, कांग्रेस का मानना है कि गोवा का मुख्यमंत्री बनने से कहीं अहम देश की सीमा की सुरक्षा है। पर्रिकर का गोवा लौटना देशद्रोह है। साफ दिखा कि वह रक्षा मंत्रालय छोड़कर भाग खड़े हुए। वास्तव में पर्रिकर भारत के इतिहास के सबसे खराब रक्षा मंत्री रहे। उन्होंने आगे कहा, रक्षा मंत्री रहते हुए पर्रिकर ने पाकिस्तान से सिर्फ एक बात सीखी कि घात लगाकर छिपकर हमला कैसे किया जाता है, जिसका पाकिस्तान में काफी प्रचलन है, जहां सेना जनता द्वारा चुनी हुई सरकार को अपदस्थ करती रही है। इसमें कोई अचरज नहीं है कि पर्रिकर ने गोवा में भी वही किया और अनुचित तरीके से भाजपा को सत्ता दिलाई।

शुक्रवार को आई कुछ खबरों में पर्रिकर के हवाले से कहा गया है कि उन्होंने केंद्र में अपना संवेदनशील मंत्रालय इतने कम समय में कश्मीर मुद्दे सहित कई अन्य मुद्दों पर दबाव बनने के कारण छोड़ा। पर्रिकर ने वहीं शनिवार को ट्विटर पर स्पष्टीकरण दिया कि शुक्रवार को आई खबरें में कोोई वास्तविकता नहीं है। आपको बता दें बीते ही दिन यानी शुक्रवार को गोवा के मुख्यमंत्री ने दूरदर्शन को दिए एक इंटरव्यू ब्रॉडकास्ट हुआ था। इस दौरान उन्होंने जाधव मामले पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा था कि पाकिस्तान खतरनाक खेल रहा है। इस दौरान उन्होंने कहा कि कश्मीर जैसे मुद्दो को सुलझा पाना सरल बात नहीं है बल्कि उसके लिए लॉन्ग टर्म पॉलिसी की जरुरत है। पर्रिकर ने कहा चीजें हैं कश्मीर एक ऐसा मुद्दा है, जो किसी चर्चा से नहीं बल्कि कार्रवाई से हल होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X