ताज़ा खबर
 

‘मैं मुलायम का सम्मान करता हूं, जब तक लड़े मैंने उनका साथ दिया अब वे अपने बेटे से हार गए तो मैं क्या करूं’

मैं मुलायम सिंह यादव का सम्मान करता रहूंगा, क्योंकि वो मेरे मित्र हैं। वह जब तक लड़े, मैंने उनका साथ दिया। अब वह अपने बेटे से परास्त हो गए तो इसमें मैं क्या करूं।"

राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने रविवार को कहा कि ‘पार्टी से निकाष्सन के बाद समाजवादी पार्टी (सपा) ने मुझे छुट्टा सांड बना दिया है, जहां हरा दिखेगा वहीं मुंह मारूंगा।’ लंदन से लौटे अमर सिंह ने कहा, “हम तो वनवास भेजे गए लोग हैं, क्योंकि समाजवादी पार्टी ने मुझे, मुलायम सिंह यादव और शिवपाल यादव को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है।” उन्होंने कहा, “मैं मुलायम सिंह यादव का सम्मान करता रहूंगा, क्योंकि वो मेरे मित्र हैं। वह जब तक लड़े, मैंने उनका साथ दिया। अब वह अपने बेटे से परास्त हो गए तो इसमें मैं क्या करूं।”

सिंह ने कहा, “पार्टी और मुलायम परिवार में उठे बवंडर का ठीकरा मुझ पर फोड़ा गया। लेकिन मैं उप्र की जनता से पूछना चाहता हूं कि बाप-बेटे की लड़ाई में मैं कहां हूं।” एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, “मैंने अखिलेश की प्रशंसा की है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि मैं उनसे अपना निष्कासन वापस लेने का आवेदन कर रहा हूं।”

समाजवादी पार्टी से निष्‍कासित अमर सिंह ने दावा किया है कि रामगोपाल यादव उन्‍हें मारने की धमकियां दे रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि वह रामगोपाल के निशाने पर हैं। वे खुलेआम उन्‍हें मारने की धमकियां दे रहे हैं। अमर ने कहा, ”आर्काइव देख लो, मैं हूं राम गोपाल के निशाने पे। वो (रामगोपाल) खुलेआम मेरी हत्‍या की चुनौती दे रहा है कि मैं यूपी से सुरक्षित वापस नहीं जाऊंगा।” गौरतलब है कि अमर सिंह को पिछले दिनों अखिलेश यादव खेमे ने सपा से निकाल दिया था। उन्‍हें मुलायम ने सपा में शामिल किया था और राज्‍य सभा सांसद बनाया था। उनके पास जेड कैटेगेरी का सुरक्षा दर्जा है। उन्‍हें यह सुरक्षा ध‍मकियां मिलने के बाद दी गई थी।

Next Stories
1 आरक्षण कोई समाप्त नहीं कर सकता: पासवान
2 दिल्ली एयरपोर्ट को मिला स्वर्ण मयूर पुरस्कार
3 अरुणाचल प्रदेश में उग्रवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में दो जवान शहीद
ये पढ़ा क्या?
X