विकास में बसपा ने उत्तर प्रदेश को ढकेला पीछे, भाजपा ने किया धोखा :अखिलेश - Jansatta
ताज़ा खबर
 

विकास में बसपा ने उत्तर प्रदेश को ढकेला पीछे, भाजपा ने किया धोखा :अखिलेश

पूर्व में भाजपा और बसपा के गठबंधन में प्रदेश में बनी सरकारों की ओर इशारा करते हुए अखिलेश यादव ने दोनो दलों को एक साथ निशाने पर लिया और कहा कि वे अपने स्वार्थ के लिए फिर हाथ मिला सकती है।

Author लखनऊ | March 5, 2016 9:08 AM
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (पीटीआई फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पूर्ववर्ती मायावती सरकार पर निशाना साधते हुए उस पर इस सूबे को विकास के मामले में वर्षों पीछे ढकेल देने और केन्द्र में सत्तारूढ़ भाजपा पर इस राज्य के साथ धोखा करने का आरोप लगाया है। उत्तर प्रदेश विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2016-17 के आम बजट पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए अखिलेश ने शुक्रवार (4 मार्च) को कहा, ‘’विकास के मामले में कोई सरकार समाजवादी सरकार से मुकाबला नहीं कर सकती, बसपा कहती है कि अब वह स्मारक और पार्क नहीं बनवायेंगी। मगर इसने (अपने पिछले कार्यकाल में) प्रदेश को विकास के मामले में वर्षो पीछे ढकेल दिया है।’’

भाजपा पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि अब जबकि केन्द्र सरकार का बजट सबके सामने आ चुका है, कोई भी देख सकता है कि उस उत्तर प्रदेश को इसमें क्या मिला, जिसने लोकसभा चुनाव में उसे 73 सीटों पर जीत दिलाई। उन्होंने भाजपा सदस्यों की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘’आप सबने इस राज्य को कुछ नहीं दिया है और प्रदेश की जनता इसके लिए आपको माफ नहीं करेगी।’’

यह भी कहा कि मौजूदा कर प्रणाली से केंद्र से उत्तर प्रदेश को मिलने वाली धनराशि में लगभग आठ हजार करोड़ रुपये कम हो जायेगी। अखिलेश ने कहा, ’’हमने गौतमबुद्धनगर के जेवर और फिरोजाबाद के हिरनगांव में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के हवाई अड्डे विकसित करने की अनुमति भर मांगी थी। मगर केंद्र सरकार इसमें दिलचस्पी लेती नहीं दिख रही है।’’

पूर्व में भाजपा और बसपा के गठबंधन में प्रदेश में बनी सरकारों की ओर इशारा करते हुए उन्होंने दोनो दलों को एक साथ निशाने पर लिया और कहा कि वे अपने स्वार्थ के लिए फिर हाथ मिला सकती है। उन्होंने बजट प्रस्तावों पर विपक्षी दलों की आलोचनाओं को खारिज करते हुए कहा कि जिस बजट को विरोधी दल झूठ का पुलिंदा कह रहे है, वह ’’सच का पुलिंदा’’ है और शहर तथा गांव के संतुलित विकास पर केंद्रित है।

यह कहते हुए कि सपा राज में बने लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे की तुलना बसपा राज्य में बने नोएडा एक्सप्रेस वे से करना गलत है, अखिलेश ने कहा कि पूववर्ती सरकार की तरह सपा सरकार ने उद्योगपतियों को न तो मनमाने पैकेज दिये और न ही जबरन किसानों की जमीन ही हथियाई गई।

उन्होंने कहा, ’’लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे के लिए न तो हमारी सरकार ने जमीन के लिए किसी किसान को जेल भेजा और न ही किसी किसान की हत्या हुई।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App