ताज़ा खबर
 

अपनी मिट्टी से जुड़ने का मौका है उत्तर प्रदेश प्रवासी दिवस : अखिलेश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सोमवार को यहां पहले उत्तर प्रदेश प्रवासी दिवस का उद्घाटन करते हुए कहा कि यह आयोजन सालों पहले विदेश जाकर बस गए राज्य के लोगों को अपनी मिट्टी और उसकी खूशबू से जुड़ने का मौका दे रहा है...
Author आगरा | January 4, 2016 23:54 pm
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव। (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सोमवार को यहां पहले उत्तर प्रदेश प्रवासी दिवस का उद्घाटन करते हुए कहा कि यह आयोजन सालों पहले विदेश जाकर बस गए राज्य के लोगों को अपनी मिट्टी और उसकी खूशबू से जुड़ने का मौका दे रहा है। आगरा में इस कार्यक्रम का आयोजन उत्तर प्रदेश के एनआरआइ विभाग और फिक्की के संयुक्त तत्वावधान में किया गया है।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर उपस्थित प्रवासियों का स्वागत करते हुए कहा, ‘आगरा में आयोजित पहले उत्तर प्रदेश प्रवासी दिवस पर आपका स्वागत करते हुए बहुत खुशी हो रही है।’ उन्होंने कहा, ‘सैकड़ों साल पहले ब्रिटिश हुकूमत के दौरान भारत से बड़ी संख्या में गिरमिटिया मजदूर सूरीनाम, फिजी, ट्रिनीडाड एंड टुबैगो, मॉरिशस इत्यादि ले जाए गए थे। उनमें उत्तर प्रदेश के भी बहुत से लोग थे। राज्य सरकार ने यह आयोजन उन्हें फिर से अपनी जड़ों की ओर आकर्षित करने के लिए किया है। इसके माध्यम से प्रवासियों को अपनी जड़ों से जुड़ने, अपनी माटी की सुगंध को पहचानने के साथ-साथ इस प्रदेश के विकास में अपना योगदान देने का भी मौका मिलेगा।’

उन्होंने इस अवसर पर आयोजित एक प्रदर्शनी का शुभारंभ भी किया। मुख्यमंत्री ने यूपी रत्न पुरस्कारों का भी वितरण किया। अपनी सरकार की उपलब्धियों पर चर्चा करते हुए अखिलेश ने कहा, ‘मार्च 2012 में जब सपा की सरकार बनी तो राज्य की स्थिति जर्जर थी, विकास ठप था। लेकिन हमने तेजी से फैसले किए और विकास को गति दी।’

उन्होंने कहा, ‘सरकार के उन्हीं फैसलों की वजह से लखनऊ में सबसे तेज मेट्रो रेल आ रही है, जो इस साल अक्तूबर से दौड़ने लगेगी। कई अन्य शहरों में भी मेट्रो लाने की तैयारी चल रही है। लगभग 300 किलोमीटर लंबे आठ-लेन के आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे, लखनऊ में आइटी सिटी की स्थापना, उन्नाव में ट्रांस-गंगा हाइटेक सिटी, लखनऊ में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम की स्थापना, पूरे प्रदेश की सड़कों के सुदृढ़ीकरण के साथ-साथ पूरे प्रदेश में अन्य अवस्थापना सुविधाएं जैसे-पुलों, आरओबी, फ्लाई-ओवर का निर्माण कार्य बहुत तेजी से चल रहा है।’

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा, ‘प्रदेश सरकार विकास में गरीबों, पिछड़ों, अल्पसंख्यकों, महिलाओं, विद्यार्थियों का विशेष ध्यान रख रही है। प्रदेश सरकार ने समाजवादी पेंशन योजना के माध्यम से महिलाओं के सम्मान की रक्षा की है। 1090 वीमेन पावर लाइन के माध्यम से महिलाओं का हौंसला बढ़ा है। अब वे निडर होकर अपने काम कर रही हैं। अपनी समस्याओं को इस हेल्पलाइन पर बता कर उनका समाधान करवा रही हैं। 108 समाजवादी स्वास्थ्य सेवा, 102 नेशनल एंबुलेंस सर्विस का लाभ गरीबों, महिलाओं को पूरी तरह से मिल रहा है।’

कार्यक्रम को प्रदेश मंत्रिमंडल के सदस्य बलवंत सिंह रामूवालिया, मुख्य सचिव आलोक रंजन, एनआरआइ एसोसिएशन के अध्यक्ष अशोक रामसरन ने भी संबोधित किया। एनआरआइ विभाग के प्रमुख सचिव संजीव सरन ने धन्यवाद दिया। कार्यक्रम के दौरान अपने वतन लौटे प्रवासियों अल्का भटनागर, अशोक रामसन, डॉक्टर अतत खान, वासुदेव पाण्डे, कनलव रेखी, डॉक्टर खालिद हमीद, डॉक्टर कृष्ण कुमार, नदीम अख्तार तरिन, डॉक्टर नंदनी टंडन, डॉक्टर राजन प्रसाद, प्रो. राजेश चंद्र, डॉक्टर राजेंद्र तिवारी, डॉक्टर श्रीनाथ सिंह, सुमन कपूर, तलत हसन आदि को यूपी अप्रवासी भारतीय रत्न से सम्मानित किया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.