दिल्ली-बेंगलुरु हवाईअड्डों पर धमकी भरे चार फोन, तीन उड़ानें रोकी गईं - Jansatta
ताज़ा खबर
 

दिल्ली-बेंगलुरु हवाईअड्डों पर धमकी भरे चार फोन, तीन उड़ानें रोकी गईं

दिल्ली और बेंगलुरु हवाईअड्डों पर कुछ ही समय में बम की धमकी वाले चार फोन आए जिसके बाद दो अंतरराष्ट्रीय सहित तीन उड़ानों को रोक दिया गया जिससे यात्रियों में दहशत फैल गई।

Author नई दिल्ली | January 28, 2016 5:41 AM
प्रतीकात्मक चित्र।

दिल्ली और बेंगलुरु हवाईअड्डों पर कुछ ही समय में बम की धमकी वाले चार फोन आए जिसके बाद दो अंतरराष्ट्रीय सहित तीन उड़ानों को रोक दिया गया जिससे यात्रियों में दहशत फैल गई। एयर इंडिया और जेट एयरवेज की काठमांडो जाने वाली उड़ानों को यहां इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर उतारा गया। इसी के चलते बेंगलुरु से एयर एशिया की गोवा उड़ान भी तय समय पर रवाना नहीं हो सकी।

काठमांडो के लिए एयर इंडिया की उड़ान को स्थानीय समयानुसार 13 बज कर 15 मिनट पर और जेट एयरवेज की उड़ान को 13 बज कर 25 मिनट पर रवाना होना था। लेकिन उन्हें रोक दिया गया और अलग थलग स्थान पर भेजा गया। यह कवायद तब शुरू हुई जब दोनों उड़ानें रवाना होने के लिए तैयार थीं लेकिन हवाईअड्डा पुलिस को उनमें बम होने की धमकी वाला फोन मिला।

पुलिस उपायुक्त (आईजीआईए) डी के गुप्ता ने बताया ‘‘दोपहर करीब एक बजे हवाईअड्डा पुलिस को एक गुमनाम फोन मिला जिसमें कहा गया कि एयर इंडिया और जेट एयरवेज के विमानों में रखे दो लैपटॉप (बैगों) के अंदर बम हैं।’’

सूत्रों ने बताया कि प्राधिकारियों ने तत्काल दोनों उड़ानों को रवाना होने से रोका। एयर इंडिया के विमान में 121 यात्री और जेट एयरवेज के विमान में 122 यात्री थे। दोनों विमानों को अलग थलग ले जा कर सामान, माल और विमान की तलाशी ली गई।

जेट एयरवेज ने एक बयान में बताया ‘‘जेट एयरवेज की उड़ान 9डब्ल्यू 260 को दिल्ली से काठमांडो के लिए 13 बज कर 25 मिनट पर रवाना होना था जिसमें सुरक्षा संबंधी अलर्ट की वजह से विलंब हो गया। सभी 122 यात्रियों और चालक दल के सदस्यों को हवाई अड्डे में प्रस्थान प्रतीक्षालय ले जाया गया।’’

सुरक्षा एजेंसियों से क्लियरेन्स मिलने के बाद आखिरकार एयर इंडिया की उड़ान स्थानीय समयानुसार 19 बज कर 50 मिनट पर रवाना हुई। एयर इंडिया ने ट्वीट किया ‘‘बम की धमकी की वजह से विलंबित हुई एआई 215 डीईएल-केटीएम सुरक्षा क्लियरेन्स के बाद विमान में बदलाव के साथ 19 बज कर 50 मिनट पर रवाना हुई।’’

इससे पहले, दूसरी बार उड़ान में विलंब हुआ जब सुरक्षा एजेंसियां तलाशी ले रही थीं। एयरलाइन ने ट्वीट किया ‘‘एआई 215 डीईएल-केटीएम को फिर से धमकी भर फोन आने के कारण विलंब हुआ और यह सुरक्षा क्लियरेन्स के बाद ही रवाना होगी।’’

बाद में एयर इंडिया के प्रवक्ता जी पी राव ने एक बयान में बताया ‘‘इससे पहले आज दिन में, उड़ान एआई 215 को खाली कराया गया और सभी 121 यात्रियों को टर्मिनल ले जाया गया क्योंकि विमान सुरक्षा जांच के लिए बे एरिया में था।’’

इसी दौरान बेंगलुरु से गोवा जा रही एयर एशिया की उड़ान में भी विलंब हुआ क्योंकि उसकी जयपुर जाने वाली उड़ान में इसी तरह बम होने की धमकी भरा फोन आया था। एयर एशिया की बेंगलुरु से गोवा जाने वाली उड़ान में 141 यात्री और 4 नवजात थे।

एयर एशिया के अनुसार, उसकी बेंगलुरू से जयपुर जाने वाली उड़ान आई 5-1721 के बेंगलुरु आगमन पर बम होने की धमकी भरा फोन मिला था। इस विमान में 164 यात्री और एक नवजात था और इन लोगों को नीचे उतारा गया। यह विमान गोवा के लिए 12 बज कर 30 मिनट पर रवाना होने वाला था।

एयर एशिया ने कहा कि विमान के उतरने के बाद उसके केबिन चालक दल का ध्यान बम होने की धमकी पर गया। विमान को अलग थलग ले जा कर बम का पता लगाने और निष्क्रिय करने वाले दस्ते ने जांच की। एक बयान में एयरलाइन ने कहा ‘‘लेकिन कुछ नहीं मिला। विमान को मंजूरी दे दी गई और सभी सामान्य प्रक्रिया के बाद विमान 16 बज कर 32 मिनट पर रवाना हो गया।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App