ताज़ा खबर
 

AgustaWestland Helicopter Case: सीएम कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी को ED ने किया गिरफ्तार

अदालत ने अपने आदेश में कहा, ‘‘आरोपी रतुल पुरी को एक दिन के लिये न्यायिक हिरासत में भेजा जाता है। आरोपी को पांच सितंबर को पेश किया जाएगा।’’

दिल्ली | Updated: September 4, 2019 11:16 PM
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भान्जे रतुल पुरी

AgustaWestland Helicopter Case: प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकाप्टर घोटाले से संबंधित धनशोधन के एक मामले में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया। पुरी कथित बैंक ऋण धोखाधड़ी से संबंधित एक अन्य धनशोधन मामले में पहले से ही न्यायिक हिरासत में हैं। पुरी को उनके खिलाफ जारी पेशी वारंट पर विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार के समक्ष पेश किया गया था। ईडी द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद अदालत ने पुरी को एक दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया और कहा कि वह वीवीआईपी हेलीकाप्टर घोटाले से संबंधित धनशोधन मामले में हिरासत में पूछताछ करने की जांच एजेंसी की याचिका पर गुरुवार को सुनवाई करेगी।

एजेंसी ने अदालत को सूचित किया कि हालांकि उसने औपचारिक रूप से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन वह न्यायिक हिरासत के लिए आवेदन दायर करने के लिए विवश है क्योंकि दिन में बहुत देर हो चुकी थी और ईडी को हिरासत में पूछताछ के लिए याचिका दायर करने के लिए समय की आवश्यकता है। अदालत ने अपने आदेश में कहा, ‘‘आरोपी को एक दिन के लिये न्यायिक हिरासत में भेजा जाता है। आरोपी को पांच सितंबर को पेश किया जाएगा।’’ इससे पहले पुरी ने मामले में आत्मसमर्पण करने का अनुरोध करते हुए अदालत में एक आवेदन दिया था।

धनशोधन मामला इटली के फिनमेकेनिका की ब्रिटिश सहायक कंपनी अगस्ता वेस्टलैंड से 12 वीवीआईपी हेलीकाप्टरों की खरीद में कथित अनियमितताओं के बाद दर्ज किया गया था। हेलीकाप्टर घोटाले में दिल्ली उच्च न्यायालय ने पुरी की अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया था और कहा था कि प्रभावी जांच के लिए उनसे हिरासत में पूछताछ आवश्यक है।

Next Stories
1 Durga Puja: 5 लाख बेकार बोतलों से बनेगा पंडाल, पर्यावरण संरक्षण की थीम पर है जोर, अनोखे तरीकों का इस्तेमाल
2 J&K: प्रदर्शन के दौरान घायल कश्मीरी की अस्पताल में मौत, श्रीनगर में फिर लगे प्रतिबंध
3 डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी के बाद कई जगहों पर प्रदर्शन, स्कूलों और कॉलेजों में भी छुट्टी
ये  पढ़ा क्या?
X