scorecardresearch

जनता बुड़बक थोड़े ही है, विपक्ष की जीभ काटेंगे क्‍या? नरेंद्र मोदी सरकार की अग्‍न‍िपथ स्‍कीम पर भड़कीं राबड़ी देवी

अग्निपथ योजना पर जारी बवाल खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। सोमवार को इस योजना को लेकर बिहार विधानसभा में जमकर हंगामा हुआ।

Agnipath recruitment scheme | RJD holds protest agains| Bihar Vidhan Sabha
बिहार विधानसभा में अग्निपथ योजना के विरोध में राजद का धरना।(फोटो सोर्स: ANI)।

बिहार विधानसभा परिसर में सोमवार को विपक्ष ने अग्निपथ योजना को वापस लेने की मांग को लेकर जमकर नारेबाजी की। बिहार की पूर्व CM राबड़ी देवी ने कहा- विपक्ष भी आवाज उठाता है तो उसकी जीभ काटेंगे क्या? राबड़ी देवी ने कहा, “हम लोगों को क्यों गुमराह करेंगे? लोग बेवकूफ हैं क्या? आंख-कान बंद किया है क्या? वो देख नहीं रहा कि देश भर में क्या हो रहा है। देश भर में भारत सरकार आग लगा रही है। लड़कों को खदेड़ रही है। उन पर मुकदमा कर रही है। युवाओं का हक नहीं दे रहे हैं। जॉब-नौकरी कहीं है नहीं। बेरोजगारी चरम सीमा पर है। महंगाई आसमान छू रही है। उन्होंने कहा कि हम जानते हैं कि यह योजना वापस नहीं होगी, लेकिन जिन युवाओं पर FIR दर्ज हुई है उसे ये वापस लें।”

इस दौरान राबड़ी देवी अपने हाथ में पोस्टर लिए हुईं थीं, जिन पर लिखा था- अग्निपथ योजना नहीं चाहिए युवा को। पूरे देश को आग में झोकना चाहती है भाजपा सरकार। भाजपा की नई योजना तैयार, भाजपा ऑफिस में नए युवा बनेंगे चौकीदार।

अग्निपथ पर जारी बवाल खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। अग्निपथ के खिलाफ सड़क से शुरू हुआ विरोध सदन में पहुंचा है। बिहार विधानसभा के मॉनसून सत्र के दूसरे दिन सोमवार को इस मुद्दे पर जोरदार हंगामा हुआ। सदन की कार्यवाही शुरू होने के पहले ही विपक्ष का जोरदार प्रदर्शन देखने को मिला। बिहार में विपक्षी राजद, कांग्रेस और वाम दलों के विधायकों ने इस मुद्दे पर जमकर प्रदर्शन और हंगामा किया।

अग्निपथ योजना को वापस लेने की मांग को लेकर भाकपा माले और राजद विधायकों ने हाथों में पोस्टर लेकर परिसर में नारेबाजी की। इस बीच मार्शल ने विधायकों के हाथों से पोस्टर छिन लिया। वहीं विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मौजूदगी में सदन के अंदर विपक्ष हंगामा करने लगे।

अग्निपथ योजना को लेकर कांग्रेस विधायकों ने कहा कि भाजपा के नेता अग्निवीरों पर आपत्तिजनक बयानबाजी कर रहे हैं। कोई उन्हें गार्ड की नौकरी देने की बात कहता है तो कोई अपने यहां चपरासी की यह बहुत ही दुखद है। कांग्रेस के एमएलसी प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि ये 4 साल की नौकरी हमें मंजूर नहीं है। सरकार युवाओं को लम्बी अवधि की नौकरी दें।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X