ताज़ा खबर
 

गुजरात में विलय की आशंका के चलते दमन रहा बंद

स्थानीय लोगों को आशंका है कि इसका पड़ोसी राज्य गुजरात में विलय करदिया जाएगा। इसी के विरोध में बंद रखा गया।

Author दमन | April 15, 2017 9:42 PM
गुड़गांव में हड़ताल पर कर्मचारी। (फाइल फोटो) (Express Photo by: Manoj Kumar)

केंद्रशासित प्रदेश दमन-दीव का दमन शहर आज बंद रहा। स्थानीय लोगों को आशंका है कि इसका पड़ोसी राज्य गुजरात में विलय करदिया जाएगा। इसी के विरोध में बंद रखा गया। प्रशासन ने कहा कि यह आशंका आधारहीन है। बंद की एक अन्य वजह यहां के घाटे में जा रहे बिजली बोर्ड को निगम में तब्दील करने के प्रति विरोध भी है क्योंकि माना जा रहा है कि ऐसा होने पर बिजली की कीमतें बढ़ जाएंगी।
शहर में प्रदर्शनकारियों ने शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया। गुजरात उच्च न्यायालय ने हाल में टिप्पणी की थी कि दमन का विलय गुजरात के साथ कर दिया जाना चाहिए क्योंकि यह केंद्र शासित प्रदेश गुजरात में शराब की अवैध आपूर्ति का सबसे बड़ा स्रोत बन गया है जहां शराब पर पाबंदी है।

प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व कर रहे खुर्शीद मांजरा ने कहा, ‘‘दमन की संस्कृति भिन्न है इसलिए गुजरात के साथ इसका विलय बिल्कुल भी संभव नहीं हैै। यह शहर गुजरात के साथ विलय बिल्कुल पसंद नहीं करेगा। हम इस विचार का विरोध करते हैं।’’एक अन्य प्रदर्शनकारी उमेश पटेल ने बताया कि वे लोग बिजली बोर्ड को निगम में बदलने के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।हालांकि केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन के सलाहकार एस एस यादव ने कहा कि ये चिंताएं बेबुनियाद हैं। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘दमन के गुजरात में विलय का कोई प्रस्ताव ही नहीं है। यह उच्च न्यायालय की एक टिप्पणी है। बिजली बोर्ड को निगम में बदलने से पहले सभी पक्षों की राय ली जाएगी।’’

अरविंद केजरीवाल के खिलाफ जारी हुआ जमानती वारंट; पीएम मोदी की शैक्षणिक योग्यता पर की थी टिप्पणी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App