ताज़ा खबर
 

मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार पुलिस हेडक्वार्टर पहुंचे कमलनाथ, साप्ताहिक छुट्टी की कही बात

कमलनाथ ने पुलिस मुख्यालय में अधिकारियों से चर्चा के दौरान ये निर्देश दिया कि पुलिस बल को साप्ताहिक अवकाश देने की व्यवस्था की जाए।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (फोटो सोर्स : PTI)

मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बनने के बाद आज कमलनाथ ने पीएचक्यू में पुलिस अफसरों से मुलाकात की। ऐसे में कमलनाथ ने पुलिस विभाग को बड़ी सौगात देने का इशारा किया है। दरअसल, कमलनाथ ने पुलिस मुख्यालय में अधिकारियों से चर्चा के दौरान ये निर्देश दिया कि पुलिस बल को साप्ताहिक अवकाश देने की व्यवस्था की जाए। कमलनाथ ने बैठक में कहा कि इसके लिए तकनीकी संसाधनों को आधुनिक किया जाए। वहीं आपात परिस्थितियों में अवकाश उपयोग नहीं करने पर क्षतिपूर्ति की व्यवस्था हो। इस दौरान प्रमुख सचिव गृह मलय श्रीवास्तव पुलिस महानिदेशक ऋषि कुमार शुक्ला एवं अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौजूद थे।

क्या बोले कमलनाथ
कमलनाथ ने कहा कि किसी भी प्रकार की अपराधिक और गैर कानूनी गतिविधियों के प्रति जीरो टॉलरेंस रखें। सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के लिए रणनीति बनाई जाएगी। महिलाओं के विरुद्ध अपराध के नियंत्रण के लिए संवेदनशीलता के साथ काम किया जाएगा। उन्होंने कहा कि गुड- गवर्नेंस का प्रमुख आधार पुलिस बल है। राज्य की छवि इसी पर निर्भर है।

सड़क दुर्घटनाएं चिंता का विषय
इसके साथ ही कमलनाथ ने कहा कि सड़क दुर्घटनाएं चिंता का विषय है। इसके लिए सड़क नियोजन और प्रतिरक्षात्मक उपायों पर समेकित रूप कार्य किया जाए। राज्य की छवि का पैरामीट पुलिस होती है। यह आवश्यक है कि बल के सदस्यों का मनोबल ऊंचा हो। नजरिया देश प्रदेश की विविधतापूर्ण संस्कृति और स्वरूप के संरक्षण का हो।

 

समाज की रक्षक है पुलिस
इसके साथ ही कमलनाथ ने कहा कि पुलिस समाज की रक्षक है। उन्होंने पुलिस के भविष्य की तकनीकों और सामाजिक चुनौतियों के अनुसार तैयारियां करने की जरूरत बताई। उन्होंने युवी पीढ़ी में नशे की लत के प्रसार को जड़ से खत्म करने की जरूरत पर भी बात की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App