ताज़ा खबर
 

ABVP कार्यकर्ताओं ने CAA के समर्थन में निकाला मार्च, तीन की जगह चार पट्टियों वाला पकड़ा था झंडा, हुआ विवाद

दरअसल छात्रों ने जिस झंडे को लिया था, उसमें तीन की बजाए चार धारियां थीं, जबकि राष्ट्रीय ध्वज में केसरिया, सफ़ेद और हरे रंग की पट्टियां ही होती हैं।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

हाल ही में नागरिकता संशोधन अधिनियम और नागरिकों के राष्ट्रीय पंजीकरण के लिए समर्थन दिखाने के लिए पंचकूला के सेक्टर 1 के गवर्नमेंट कॉलेज के 15 छात्रों का एक समूह गुरुवार को तिरंगा मार्च निकाल रहा था। इस दौरान कुछ लोगों ने उन्हें बताया कि वे गलत ढंग से तिरंगा झंडा लिए हैं। गलती का पता चलते ही छात्रों ने सुधार किया और सही रंग का झंडा लेकर मार्च निकाला।

छात्रों के झंडे में तीन की बजाए चार धारियां थीं : दरअसल छात्रों ने जिस झंडे को लिया था, उसमें तीन की बजाए चार धारियां थीं, जबकि राष्ट्रीय ध्वज में केसरिया, सफ़ेद और हरे रंग की पट्टियां ही होती हैं। इस बारे में एक छात्र ने इसे स्वीकार करते हुए कहा, “हां हमारे पास गलत झंडे थे। कपड़े काटते समय वह गलत तरीके से काट दिए गए थे। हमने कई झंडे गाड़े थे, जो सभी एक जैसे थे। केवल एक ध्वज गलत हो गया।”

Hindi News Today, 20 December 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

राज्य प्रमुख के नेतृत्व में निकाला मार्च : छात्रों ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के राज्य प्रमुख सुनील भारद्वाज के नेतृत्व में कॉलेज से गीता चौक तक मार्च निकाला। देश में चल रहे विरोध प्रदर्शनों के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा, “जो लोग विरोध कर रहे हैं, वे देश को आगे बढ़ते हुए नहीं देखना चाहते हैं। वे राजनीतिक उपलब्धि के लालच के लिए विरोध कर रहे हैं। ये वही लोग हैं जिन्होंने भारत को टुकड़े टुकड़े करने के बारे में नारा दिया था। जिन्हें सीएए और एनआरसी के बारे में भी जानकारी नहीं है, उन्हें विरोध में लाया जा रहा है।”

परीक्षाओं की वजह से कम रही छात्रों की संख्या : जब उनसे पूछा गया कि एबीवीपी के 1000 से अधिक सदस्यों के बावजूद संख्या इतनी कम क्यों है, तो उन्होंने कहा, “उनकी परीक्षाएं चल रही हैं। हमारे सभी कार्यकर्ता जिन्हें जानकारी मिल रही है, हमसे जुड़ रहे हैं। सभी कैंपस के छात्र हमारे पास आ रहे हैं और हमसे जानकारी ले रहे हैं।” दोपहर 1 बजे शुरू हुई यह यात्रा दोपहर लगभग 1.30 बजे समाप्त हुई। इसके बाद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के राज्य प्रमुख सुनील भारद्वाज ने गीता चौक पर खड़े छात्रों को संबोधित किया।

Next Stories
ये पढ़ा क्या ?
X