ताज़ा खबर
 

शहीद अब्दुल हमीद के नाम पर गांव का नामकरण अब तक नहीं

परमवीर चक्र विजेता शहीद वीर अब्दुल हमीद के गांव धामूपुर का नाम राजस्व रिकार्ड में बदलकर शहीद के नाम पर करने की प्रदेश सरकार के कद्दावर मंत्री शिवपाल सिंह यादव की घोषणा उसी तरह हवा हवाई साबित हुई, जिस प्रकार जिले में दो नई तहसील बनाने की 2015 में मूर्त रूप न ले सकी.
Author गाजीपुर | December 31, 2015 23:07 pm

परमवीर चक्र विजेता शहीद वीर अब्दुल हमीद के गांव धामूपुर का नाम राजस्व रिकार्ड में बदलकर शहीद के नाम पर करने की प्रदेश सरकार के कद्दावर मंत्री शिवपाल सिंह यादव की घोषणा उसी तरह हवा हवाई साबित हुई, जिस प्रकार जिले में दो नई तहसील बनाने की 2015 में मूर्त रूप न ले सकी।

1965 भारत पाक युद्ध में अमेरिका प्रदत्त पाकिस्तानी पैटन टैंकों को तोड़कर युद्ध का रुख भारत के पक्ष में मोड़कर हीरो बनने वाले शहीद हमीद की 50वीं पुण्यतिथि समारोह हमीद के गांव धामूपुर में 10 सितंबर को आयोजित किया गया। इसमें मुख्य अतिथि के रूप में आए मंत्री शिवपाल सिंह यादव ने घोषणा की कि अब हमीद के गांव धामूपुर गांव के नाम में हमीद का भी नाम जुड़ जाएगा। उन्होंने एक महीने के अंदर नाम परिवर्तन करने को राजस्व विभाग वालों को कहा था जो आज तक गांव के नाम में शहीद हमीद का नाम नहीं जुड़ा है।

1965 में ही हमीद की शहादत के बाद धामूपुर का नाम बदल कर हमीद धाम करने की घोषणा भी तत्कालीन सरकार ने की थी। गाजीपुर जिले में पांच तहसीले हैं। पर्यटन मंत्री ओमप्रकाश सिंह के प्रयास से उनके गांव सेवराई को नई तहसील बनाने की घोषणा उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से की गई थी। इसी प्रकार महिला कल्याण मंत्री सैय्यदा शादाब फातिमा के प्रयास से कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह की ओर से मंत्री के विधानसभा क्षेत्र के कासिमाबाद को तहसील बनाने की घोषणा की गई थी। साल बीत गया पर घोषणाएं धरातल पर नहीं आ सकी है।

गाजीपुर नगर पालिका के जनता के मतदान से चुने गए अध्यक्ष विनोद अग्रवाल की वित्तिय व प्रशासनिक शक्ति प्रदेश सरकार द्वारा वित्तीय अनियमितता का आरोप लगाकर सीज करने का मामला जनता में चर्चा का विषय बना रहा। इस समय सरकारी अधिकारी के अधीन चल रही नगर पालिका में करोड़ों के घोटाले का आरोप दो दिन पूर्व हुए सभासदों की बैठक में हुआ। इस दरम्यान हुए निर्माण कार्य मानक से काफी खराब होने की शिकायत सामने आ रही है लेकिन गड़बड़ी की जांच तक नहीं हो रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App