ताज़ा खबर
 

जेटली के खिलाफ आप का प्रदर्शन

आप ने दिल्ली व जिला क्रिकेट एसोसिएशन (डीडीसीए) में कथित वित्तीय अनियमितता को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ शनिवार को राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन किया..

Author नई दिल्ली | Published on: December 27, 2015 2:25 AM
गुड़गांव में ‘आप’ की महिला कार्यकर्ता डीडीसीए मामले में अरुण जेटली का इस्तीफा मांगते हुए।

आप ने दिल्ली व जिला क्रिकेट एसोसिएशन (डीडीसीए) में कथित वित्तीय अनियमितता को लेकर केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ शनिवार को राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन किया। आप ने दावा किया कि 17 प्रदेशों की राजधानियों और 275 से अधिक जिलों में विरोध प्रदर्शन आयोजित किया गया। समूचे देश के उसके कार्यकर्ताओं ने अपने लैपटॉप, प्रिंटर और पूजा की थालियां डीडीसीए को किराए पर देने के लिए स्टॉल लगाए। उन्होंने यह कहते हुए विरोध मार्च भी निकाला कि वह भी अरुण जेटली को भ्रष्ट कहते हैं और हिम्मत हो तो मोदी उनके खिलाफ मानहानि का मामला दायर करें।

जेटली ने आप संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री और पार्टी के अन्य नेताओं के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया है। पार्टी ने कहा कि वह दस जनवरी को जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन करेगी। आप नेता आशुतोष ने कहा, ‘डीडीसीए घोटाले की जांच में खुलासा हुआ है कि वित्त मंत्री अरुण जेटली और उनकी टीम के तहत जनता के धन की लूट की गई है। यह पाया गया है कि फर्जी पतों और फर्जी पहचानों का इस्तेमाल करके खोली गई कंपनियों को करोड़ों रुपए का भुगतान किया गया। यह धन अरुण जेटली के तहत डीडीसीए अधिकारियों को दिया गया’।

आप नेता ने कहा, ‘जांच में इस बात का भी खुलासा हुआ है कि कंपनियों और वेंडरों को किराए पर लैपटॉप लेने के लिए प्रतिदिन 16 हजार 900 रुपए का भुगतान किया गया। प्रिंटरों के लिए रोजाना तीन हजार रुपए का भुगतान किया गया और पूजा की थालियां किराए पर 5000 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से ली गर्इं’। आप की दिल्ली इकाई के संयोजक दिलीप पांडेय ने कहा कि डीडीसीए घोटाले ने भ्रष्टाचार में भाजपा के शीर्ष नेताओं की संलिप्तता का पर्दाफाश किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories